Hey, I am sohail

https://youtu.be/iuvA8GgHN0c come and see horrible things in this video

-- प्रेम पुत्र

https://www.matrubharti.com/bites/111521638

https://youtu.be/GgPI_PGbVRc

यह मेरा नया यूट्यूब हॉरर वीडियो चैनल है कृपा एक बार ज़रूर देखे

-- प्रेम पुत्र

https://www.matrubharti.com/bites/111515057

Read More

प्रेम पुत्र लिखित उपन्यास "ये इश्क नहीं आसान" मातृभारती पर फ़्री में पढ़ें
https://www.matrubharti.com/novels/16402/n-a

Sohail Saifi लिखित उपन्यास "जीनी का रहस्यमय जन्म" मातृभारती पर फ़्री में पढ़ें
https://www.matrubharti.com/novels/11570/jini-ka-rahashymay-janm-by-sohail-saifi

हाय, मातृभारती पर इस धारावाहिक 'प्रेम मोक्ष' पढ़ें
https://www.matrubharti.com/novels/12162/n-a

समय से पहले जितने की ख़ुशी हमें लापरवाह बना देती हैँ
और समय से पहले हार जाने का डर हमें सतर्क और चौककना कर जाता हैँ

Read More

संसार का प्रत्येक गुण एक सीमा तक निर्धारित होता हैँ
उस सीमा को लांघने पर उसका गुण दोष मे परिवर्तित हो जाता हैँ

जैसे आत्मा विश्वास एक गुण हैँ परन्तु अधिक आत्मा विश्वास अहंकार कहलाता हैँ जो की एक दोष हैँ

धन अर्जित करने की लगन एक गुण हैँ किन्तु अधिक होने पर ये लोभ नामी बीमारी का रूप धारण कर लेती है

धन को सोच समझ कर कम से कम खर्च करना एक गुण हैँ लेकिन अधिक होने पर ये कंजूसी जैसे दोष मे आ जाती हैँ
ऐसे ही प्रत्येक गुण अपनी सीमा से अधिक होते ही दोष बन जाता हैँ

Read More

यदि किसी व्यक्ति मे संतोष और सय्यम जैसे गुण ना हो तो उसका चित कभी भी स्थिर नहीं रहता
अधीर व्यक्ति का सदैव अंत परिणाम दुखद ही होता हैँ

Read More

माता पिता संतान के लिए अपना सम्पूर्ण सुख सुविधा त्याग देते हैँ
किन्तु संतान थोड़े से आनंद के लिए माता पिता का ही त्याग कर देता हैँ

Read More

हाय, मातृभारती पर इस कहानी 'जीनी का रहस्यमय जन्म (श्राप) - 2' पढ़ें
https://www.matrubharti.com/book/19875716/jini-ka-rahasymay-janm-2-shraap