Best Novel Episodes stories in hindi read and download free PDF

कैसा ये इश्क़ है.... - (भाग 8)
by Apoorva Singh

अर्पिता किरण और आरव के पास आ जाती है और उनके साथ कुछ देर बैठ कर एंज्वॉय करती है।वहीं अर्पिता से कुछ ही दूरी पर सात्विक भी मौजूद होता ...

Mr. and M.R.- 1
by Anil Patel _ Bunny

बहुत रात हो चुकी थी, पर अभी भी मीरां को नींद नहीं आ रही थी। उसने सोचा मोबाइल में कुछ देखु, पर फिर उसे लगा कि पूरा दिन तो ...

मानस के राम (रामकथा) - 10
by Ashish Kumar Trivedi

                          मानस के राम                              ...

रेवती रमन- अधूरे इश्क की पूरी कहानी. - 4
by RISHABH PANDEY
  • 228

“भाय शुक्ल रेवती के ख्याल मन से जात नही बा? का करी यार”- रमन“कुछ न करा तू दो दिन रूका बस सारा इश्क के भूत तोहार उतर जाई। काहे ...

29 Step To Success - 10
by Wr.MESSI
  • 171

CHAPTER - 10Resolve only gives successसंकल्प ही सफलता देता है।प्रत्येक मनुष्य ऊर्जा का एक अटूट स्रोत है।  इसमें अनंत संभावनाएं छिपी हुई हैं।  इस ब्रह्मांड में भगवान ने जितनी ...

इस रिस्ते को क्या नाम दुँ ? - 7
by Kalpana Sahoo
  • 168

        अबतक आप पढे हैं की स्रुती को अपनी प्यार से जुदा होनी पडी जबकी उसकी दिल कुछ और केह रही थी । तब वो अकेली पड ...

नविता की क़लम से ... - 2
by navita
  • (17)
  • 465

?बचपन की यादों की क़िताब का पन्ना ?सबसे सुनहरा पल है बचपनबीते कल का सुकून है बचपन।बैर, द्वेष से कोसो दूरकोई चिंता की न थी होड़केवल खेल-खिलोने थे भाते,दोस्तो ...

नूर
by Priyanka Jangir
  • (12)
  • 429

यह एक काल्पनिक कहानी है, इस कहानी के सभी पात्र काल्पनिक हैं और किसी भी जीवित या मृत व्यक्ति से इस कहानी का कोई लेना देना नहीं है, जगह ...

ये उन दिनों की बात है
by Misha
  • 189

और देखते ही देखते जयपुर सिटी से मेट्रो सिटी हो गया बड़े बड़े मॉल्स, बिल्डिंग्स, मल्टीप्लेक्सेज इत्यादि देखते देखते खड़े हो गए हैं और यहाँ भीड़भाड़ भी बहुत हो ...

बागी आत्मा 11
by रामगोपाल तिवारी (भावुक)
  • 78

बागी आत्मा 11                ग्यारह     माधव ने जब से आशा को विदा किया था । गरीबों को सताना छोड दिया था। वह सोचनं लगा-‘ बे-मतलब गरीबों को ...

मुकम्मल मोहब्बत - 5
by Abha Yadav
  • 141

     माथे पर हाथ के स्पर्श का एहसास हुआ तो पलकें खुद-व-खुद खुल गईं.जोशी आंटी माथे पर हाथ रखे पूँछ रही थीं-"नील,बेटा, तबीयत तो ठीक है?" मैंने आँखें खोलीं ...

मानस के राम (रामकथा) - 9
by Ashish Kumar Trivedi
  • 93

                          मानस के राम                           भाग 9अयोध्या ...

तानाबाना - 18
by Sneh Goswami
  • 135

  तानाबाना 18     पाकिस्तान से पलायन से उपजी निराशा ने इस दम्पति को अभी तक अपनी गिरफ्त में कस कर जकङ रखा था । रवि एकदम वितरागी ...

एनिमल फार्म - मूल लेखक जॉर्ज ऑरवेल
by Mahaveer Prasad
  • 105

अध्याय १           मैनर फ़ार्म के श्री जोन्स ने रात के लिए मुर्गी-घरों को बंद कर दिया था। लेकिन बहुत नशे में होने के कारण वह झरोखों को बंद करना भूल ...

Peacock - 7
by Swatigrover
  • 99

कुछ दिन  दिल्ली  में  शॉपिंग  करने के  बाद दिल्ली  घूमना  शुरू  किया ।  ऐसा  नहीं है  कि  आरव  ने पहली  बार  दिल्ली देखी  हूँ  । एक बार रिदा  और  ...

16 WAYS - Impossible To Possible - 3
by KIRTI YADAV
  • (16)
  • 243

                     ❁ CHAPTER - 3 ❁          Healthy and Disease Free Life             ...

29 Step To Success - 9
by Wr.MESSI
  • (22)
  • 276

Chapter - 9Laziness isThe Enemyआलस्य दुश्मन है ।आलस्य मनुष्य का छिपा हुआ शत्रु है, जो उसे जागरूकता के मार्ग पर ले जाता है और उसकी सभी शक्तियों को निष्क्रिय ...

हारा हुआ आदमी(भाग12)
by किशनलाल शर्मा
  • 237

इसे निहारने के लिए हजारों की संख्या में पर्यटक देश विदेश से आते है।जो भी आगरा आता है, ताजमहल जरूर देखना चाहता है।देवेन और निशा के पीछे एक फोटोग्राफर ...

नकटी - भाग-4
by Rohitashwa Sharma
  • 249

सुबह सुबह ग्यारह बजे का समय था। चरण फाईनेंस के ब्रांच मैनेजर गुप्ता जी ऑफिस की फाइलें  निपटाने में व्यस्त थे। किसी ने दरवाजा खटखटाया। गुप्ता जी ने गर्दन ...

बागी आत्मा 10
by रामगोपाल तिवारी (भावुक)
  • 105

बागी आत्मा 10   दस   माधव की गैंग की संख्या दस हो गई थी। दो आदमियों को तो उसने ठिये पर छोड़ दिया था बाकी आठ आदमियों को ...

29 Step To Success - 8
by Wr.MESSI
  • (17)
  • 318

Chapter - 8Hope is alive life.आशा जीवनदायिनी है ।ओ जीवन के थके पंखेरुं,बढ़े चलो हिम्मत मत हारो,पंखो में भविष्य बंधा है,मत अतीत की और निहारो, चिंता क्या धरती यदी छुटी, उड़ने ...

क्लीनचिट - 7
by Vijay Raval
  • 201

अंक - सातवां/७'अदितीतीतीतीतीतीतीती....''अदितीतीतीतीतीतीतीती....''अदितीतीतीतीतीतीतीती....' का नाम लेकर चिल्लाते हुए आलोक और शेखर दोनों ने लिफ्ट की आसपास का इलाका छान मारा। बहुत ढूंढा पर तब तक तो अदिती सैकड़ों की ...

मुक्म्मल मोहब्बत - 4
by Abha Yadav
  • 186

     मैंने कार काटेज के पीछे पार्क की और कार में से बैग निकाल कर कंधे पर डाला. सीधे काटेज के गेट पर पहुंच कर कालवेल बजा दी.कालवेल ...

कैसा ये इश्क़ है.... - (भाग 7)
by Apoorva Singh
  • 249

अर्पिता आवाज़ की तरफ मुड़ती है तो सात्विक को देख उससे कहती है। शुक्रिया आपका। सात्विक - अरे आप इतनी सी बात के लिए शुक्रिया कहेंगी। अर्पिता - जी।इतनी सी ...

मानस के राम (रामकथा) - 8
by Ashish Kumar Trivedi
  • 183

                          मानस के राम                              ...

ये कैसा संन्यास - सीजन 2- भाग - 15
by Neerja Pandey
  • 234

अगले अवकाश में दोनो परिवार इकट्ठा हुए। फिर कुल पुरोहित को बुला कर शुभ मुहूर्त निकलवाया गया।  तीन महीने बाद की शादी की तारीख निकाली गई थी। बेहद शुभ ...

नई चेतना - 23
by राज कुमार कांदु
  • 147

गाड़ी सरपट भागी जा रही थी । अब तक खामोश बैठे  लालाजी अचानक सुशीलादेवी से मुखातिब हुए ” शिकारपुर गाँव के चौधरी रामलालजी का फोन आया था । अमर ...

मोहब्बत हो गयी है तुम्हें ( भाग 1 )
by Laiba Hasan
  • 258

बिस्तर पर चुपचाप लेटी हानिया को पता ही नहीं चला के कब उसकी आंख लगी बाहर होती जोरदार बारिश और बादल की गर्जन से उसकी आंख खुली और सीधे ...

इस रिस्ते को क्या नाम दुँ ? - 6
by Kalpana Sahoo
  • 225

         अबतक की कहानी थी स्रुती दिपक् के आगे अपनी अतीत के दर्द भरे पन्हें को खोल रही थी । अब आगे........       दिपक् :- ...

त्रीलोक - एक अद्धभुत गाथा - 7
by Prapti Timsina
  • 120

त्रीलोक - एक अद्धभुत गाथा ( उपन्यास )7सब लोग adventure पे जाने के लिए उताबले होरहे थे। लगभग सारी तयारिया होचुकी थी। सब लोग इस एडवेंचर की प्लान से बहत ...