Best Novel Episodes stories in hindi read and download free PDF

एक लड्का को देखा तो ऐसा लगा - 2
by Arun Giri

#एक लडका को देखा तो ऐसा लगा (भाग - २)मैनै दौड कर भागते हुए बसको रोकनी चाही... लेकिन मुझे उस बसके कन्डक्टरके सिवा और कोई देख न सका । ...

लव v s lust
by Alok PandeyTGAP

प्यार बहुत दर्द देता हैंमेरा नाम आदित्य (23 साल) है और मेरी  गर्लफ्रैंड का नाम प्रिया(23साल)  है ।हम पाँच साल से साथ है । मैं जानकारी के लिए बता दु  ...

भदूकड़ा - 57
by vandana A dubey
  • 197

कुंती ने पहले कभी ध्यान नहीं दिया था, लेकिन अब देख रही है कि हर आदमी उससे दूर भाग रहा है। भागता पहले भी होगा, लेकिन कुंती ने तब ...

हारा हुआ आदमी (भाग 7)
by किशनलाल शर्मा
  • 62

देवेन जब भी आगरा आता इसी होटल में ठहरता था।इसलिए होटल का स्टाफ उसे जानता था।"आज इस समय पेपर की। क्या ज़रूरत  पड़ गई?"रीता उसे पेेेपर  देते हुए बोली।"कौन ...

तानाबाना -10
by Sneh Goswami
  • 65

  lतानाबाना 10   अभी तक आप पढ रहे थे , मंगला अल्पायु में ही विधवा हो गयी । दो बेटियों के साथ जीवन थोङा पटरी पर आया था ...

कर्म पथ पर - 62
by Ashish Kumar Trivedi
  • 125

                                           कर्म पथ पर              ...

चेक मेट - 7
by Saumil Kikani
  • 262

                               Episode 7राठोड ओर सोलंकी दोनों सोच विचार करते हुए प्रदीप के फ्लैट में यहां ...

मिखाइल: एक रहस्य - 13 - बदला
by Hussain Chauhan
  • 150

मुग़ल क्वीन से तकरीबन १५ मिनट की कैब राइड के बाद जय और माहेरा उनके अपार्टमेंट अपर्णा प्रेम पर पहुंच चुके थे जो शास्त्रीपुरम में स्थित था।"क्या यह तुम्हारा ...

सुलोचना - 2
by Dev Sharma
  • 172

अगले दिन राकेश सुबह सुबह गांव घूमने निकल पड़ा कोशिश थी कोई तो ऐसा होगा जो सुलोचना के बारे में कुछ जानता होगा इसी उधेड़बुन में घूमते घूमते राकेश ...

ये कैसा संन्यास- भाग ६
by Neerja Pandey
  • (14)
  • 418

अनुष्ठान की तैयारियां जोर-शोर से चल रही थी। सारे रिश्तेदारों नातेदारों को निमंत्रण दिया गया था।सभी की प्रतिक्षा हो रही थी। सभी की आवश्यकता के हिसाब से व्यवस्था की ...

भदूकड़ा - 56
by vandana A dubey
  • 424

कुंती की समझ मे भी सुमित्रा जी की सलाह आ गयी थी शायद। गाँव पहुंचते ही उसने सबसे पहले ज़मीन के कागज़ात निकलवाये, दोनों लड़कों को बुलाया और अपने ...

कर्म पथ पर - 61
by Ashish Kumar Trivedi
  • 305

                          कर्म पथ पर                        Chapter 61 जय को ...

LOVE AT FIRST SIGHT - 1
by Lucky
  • 282

LOVE AT FIRST SIGHT ....Lucky ?कहते है कि          दुआ करता हूँ की तेरी फतैह हो                 जिस का नाम है ...

शोर... एक प्रेमकहानी - 3
by Archana Yaduvanshi
  • 172

पुलिस ने बचाव किया तेज़ का लेकिन उनकी बातों से लग रहा था की कितनी फ़िक्र है. कोई सवाल ना उठे और तेज बच भी जाय. नरेन्द्र कम नहीं ...

सपना - 1
by Shivani Verma
  • 248

ट्रेनों की गड़गड़ाहट के बीच, स्टेशन के पिछले हिस्से की तरफ रेलवे ट्रैक पर बैठी सपना की आंखों से झर-झर आंसू बह रहे थे. उधर से निकलने वाले लोग ...

आइलैंड ऑफ द् वैम्पायर्स - भाग- 3
by pratibha singh
  • 192

इसाबेल के आँख खोलते ही उसकी नजर उस लड़के पर पड़ती है जो उसे गुफा में लेकर आया था "तुम कौन हो और मै कहा हूँ" इसाबेल  हैरानी से ...

मानसिक रोग - 10
by Priya Saini
  • 162

आनन्द की देह को सामने देखकर श्लोका निरंक खड़ी रहती है। दूसरी ओर आनन्द के पिता अपने कलेजे पर पत्थर रखकर उसके अंतिम संस्कार की तैयारी करते हैं। थोड़ी ...

हारा हुआ आदमी(भाग 6)
by किशनलाल शर्मा
  • 153

और कुछ देर बाद,इंजन की सिटी के साथ ट्रेन प्लेटफार्म से सरकने लगी थी।धीरे धीरे स्टेशन पीछे छूट गया।ट्रेन की रफ्तार बढ़ने लगी थी। देवेन खिड़की के पास बैठा था।वह ...

कर्म पथ पर - 60
by Ashish Kumar Trivedi
  • 276

                        कर्म पथ पर                      Chapter 60 गांव की दस लड़कियां ...

अरमान दुल्हन के - 2
by एमके कागदाना
  • 502

अरमान दुल्हन के भाग -2हम सब बहन भाई भी नई नवेली भाभी को कितनी देर तक घेरकर बैठे उटपटांग सवाल किये जा रहे थे ।भाभी भी चार-पांच घंटे का ...

भदूकड़ा - 55
by vandana A dubey
  • 596

साल भर तक तो कुंती छोटू के घर गयी ही नहीं। बाद में जब छोटू की बेटी की शादी तय हुई तब छोटू और उसकी पत्नी आ के उसे ...

ये कैसा संन्यास- भाग ५
by Neerja Pandey
  • (16)
  • 861

अब केशव की पोस्टिंग गांव के पास वाले शहर में हो गई। वो बहुत खुश था अपने घर आकर। मां कान्ता भी बेहद खुश थी कि बेटा पास आ ...

मानसिक रोग - 9
by Priya Saini
  • 267

 पिछले भाग में आपने पढ़ा आनन्द का पप्रोमोशन हो जाता है। घर के सब लोग असमंजस में आ जाते हैं। अभी तो सगाई की तारीख़ तय हुई है, श्लोका ...

तानाबाना - 9
by Sneh Goswami
  • 265

         तानाबाना   -  9 एक तरफ तो सतघरे में गाँव की बारह से सोलह साल की सभी लङकियों की शादी की तैयारियाँ जोर -शोर से चल ...

कर्म पथ पर - 59
by Ashish Kumar Trivedi
  • 225

                   कर्म पथ पर                 Chapter 59माधुरी स्टेशन के बाहर निकल रही थी। पीछे से ...

चेक मेट - 6
by Saumil Kikani
  • 390

                                 Episode 6सोलंकी और राठोड मकान के पार्किंग एरिया में खड़े थे और अभी ...

2 MAD PART 7
by VARUN S. PATEL
  • 204

         हेल्लो दोस्तो तो केसे हो आप लोग। मे फिरसे हाजिर हु आप सब के बिच आपकी अपनी सबसे मजेदार नवलकथा को लेकर जीसमे प्यार, ड्रामा ...

भदूकड़ा - 54
by vandana A dubey
  • 682

भीषण गर्मी में भी सुमित्रा जी का घर, हरियाली की वजह से ठंडा रहता है। आम के पेड़ों ने चारों तरफ से घर को घेर रखा है। सुबह तिवारी ...

रिसते घाव (भाग १८)
by Ashish Dalal
  • 315

बिस्तर पर लेटते ही अमन नींद के आगोश में समा गया । श्वेता उसकी बगल में लेटे हुए करवटे बदलती रही । अपनी और अमन की भावी जिन्दगी के ...

कर्म पथ पर - 58
by Ashish Kumar Trivedi
  • 338

                       कर्म पथ पर                   Chapter 58हैमिल्टन दीवान पर मसनद लगाए हुए लेटा ...