Hey, I am on Matrubharti!

करवाचौथ विशेष....😍😍
तुम से ही.....❤️❤️

तुम हो
तो बेफ़िक्र हूँ
हर फ़िक्र से
प्रेम को इतना ही
जाना है

तुम हो
तो खुश हूँ
हर गम में
तुम्हारे साथ से
प्रेम से इतना ही
मांगा है

तुम हो
तो हर खता
माफ़ है
तुम्हें बताने भर से
प्रेम को इतना ही
माना है

तुम हो
तो मैं हूँ
तुम्हारे साथ मिलकर
हम हो जाने से
प्रेम को इतना ही
पहचाना है

सुषमा गुप्ता
❤️❤️

Read More

कभी शब्द नहीं मिले
कभी वक़्त ने धोखा दिया
मन में रह गई मन की बातें जब तुमने साथ ना दिया

-Sushma Gupta

उदासियाँ अक्सर घेर लेती है जब तुम पास नहीं होते

-Sushma Gupta

कुछ खो जाने का डर
कुछ ना मिलने का दर्द
इस तरह बीत रही जिंदगी

पल खर्च हो रहे धीरे धीरे
मन भटक रहा इधर उधर
इस तरह बीत रही जिंदगी

बाते है बहुत सी अधूरी
समय नहीं है बस पूरा
इस तरह बीत रही जिंदगी

Read More

इंतजार की हद भी कुछ होनी चाहिए
कोई कब तक इंतजार को अपना नसीब मानें

-Sushma Gupta

कुछ जज़्बात पर काबू नहीं है मेरा
तुम्हें देखकर नाजाने क्यू दिल बेचैन हो जाता है

-Sushma Gupta

उलझे मन कि बातें मेरी उलझी उलझी
तुम से मिलकर जैसे हैं सुलझी सुलझी

-Sushma Gupta

नया वर्ष आते ही क्या
नई खुशियां आ जायेगी
खत्म सब ग़म हो जायेगे
क्या नव कलियाँ खिल
जाएगी

-Sushma Gupta

एक अहसास जिंदा रहता है आज भी दिल में पर जाने वो किस दुनिया में रहता है

-Sushma Gupta

तेरी खुश्बू से ही महके मन ये मेरा
तेरे बिन क्या है इस दुनिया में मेरा

-Sushma Gupta