लफ्जो से ना अंदाजा लगाओ मेरे किरदार का... ये सिर्फ मेरे अलफाज़ है,, मेरे जज्बात नही...

બહારના કોલાહલ માં પણ,
એક નિરવ શાંતિ વરતાય છે,,

ભીતરના અંતર મનમાં
તારો જ પડઘો સંભળાય છે...

♡ તમન્ના ♡

share

दूरियाँ, मजबूरियाँ,
खामोशियाँ, बेबाकियाँ,,

लाज़मी है मोहब्बत में,
इनका भी होना...

यादों को तेरी कुछ
इस तरह पिरोया है,

मैंने तुझको तुझसे चुराकर
अपने ख्वाबो मे संजोया है..


♡ तमन्ना ♡

पत्थरदिल से दिल लगाया,
तो अब शिकायत क्या करे,,

जख्म भी अपने, दर्द भी अपना,,
तो फिर नुमाईश क्या करे..

♡ तमन्ना ♡

Read More

में तेरी पतंग, तु मेरा मांझा,
रहे रिश्ता अपना यु ही सांझा...

♡ तमन्ना ♡

फना हो जाये एक दूसरे के लिए
दिलों में ऐसे अब जज्बात कहां !!

कलम से क्या शिकवा करे अब,
दर्द बया कर सके ऐसे अल्फाज़ कहां...

♡ तमन्ना ♡

Read More

સંઘર્યો છે બસ આજ એક કાટમાળ,

પ્રેમ, હૂંફ અને લાગણીનો ભરમાળ,,

સમાઈ જઈશ આમ જ તારી કવિતામાં,

બસ તુ મને એકવાર શબ્દો માં ઢાળ...

Read More

वैसे तो हर तरह से
इख्तयार में है मेरे,

ना जाने तेरे लिए ही
बगावत पे उतर जाता है,,
ये मेरा दिल...💖

💗 तमन्ना 💗

तन्हाई से मेरा क्या वास्ता !!

तुम्हारी यादो का कारवाँ,
जो साथ है मेरे...

♡ तमन्ना ♡