समझता ही नहीं वो मेरे अलफ़ाज़ की गहराई मैंने हर लफ्ज़ कह दिया जिसे मोहब्बत कहते है.....

एक आप हो
जो
कुछ कहते नहीं...
और एक आपकी
यादें है
जो चुप रहती नहीं....

-Zainab

વરસાદ માટે શું તરસે છે
એ તો બધા માટે
વરસે છે...
ભીંજાવું જ હોય તો
મારી આંખોમાં જો
જે ફક્ત
તારા માટે જ
વરસે છે....

-Zainab

Read More

तु खास है मेरे लिए
आम नहीं है
गहराई बहुत है रिश्ते में
बस कोई नाम नहीं है...

-Zainab

જો એ પથ્થર દિલ છે
તો
અમે પણ હથોડા જેવા છીએ
ટીપી ટીપી ને પણ
જગ્યા તો કરી જ લેશું....
😊😜

-Zainab

कौन कहता है अलग अलग रहते है
हमतुम
हमारी यादों के सफर में
हमसफ़र हो
तुम.....
💓

-Zainab

आँखो को जब किसी की
चाहत हो जाती है...
उसे देख के ही दिल
को राहत हो जाती है...
कैसे भूल सकता है कोई
किसी को
जब किसी को किसी की
आदत हो जाती है...

-Zainab

Read More

बस नाम लिखने की
इज़ाजत नहीं मिली...
बाकी हम सब कुछ
उन पर ही लिखते है...!!

-Zainab

ज्यादा पल साथ बिताए नहीं
लेकिन ख्वाब सजाया था
रस्मो रिवाज से पहले ही
उन्हें
दिल से अपना बनाया था... 💓

-Zainab

Read More

यादें बनकर ये जो
तुम साथ रहते हो मेरे
तेरे इस एहसान का
भी सौ बार शुक्रिया....

-Zainab