उद्देश्य ये नही की कौन मुझे पढ़ना पसन्द करेगा, उद्देश्य ये है कि कुछ तो लिख दू जो इस पहचान के नाम रहेगा, वरना जिंदगियों का क्या है जनाब ये तो आते जाते रहेंगे। मगर शायद ही हम आपको पहचान पाए और आप हमें! मेरे "ब्लॉगर| आकांक्षा श्रीवास्तव "चैनल पे आपका स्वागत है! अब जब इतनी दूर आ ही गए है तो कृपया बिना इग्नोर किए, मेरा चैनल सब्सक्राइब किए आगे न बढ़े!#theuntoldstoriesoflife.