जो घर फूंके अपना - 9 - चल खुसरो घर आपने, रैन भई चहुँ देस

by Arunendra Nath Verma Matrubharti Verified in Hindi Humour stories

जो घर फूंके अपना 9 चल खुसरो घर आपने, रैन भई चहुँ देस बैडमिन्टन का नशा ठीक से चढ़ने से पहले ही उतर गया. जवानी दीवानी उदास हुई तो आसानी से मुस्करा न सकी. दो एक महीनों के बाद ...Read More