public knows you netaji by Singh Srishti in Hindi Humour stories PDF

जनता सब जानती है

by Singh Srishti in Hindi Humour stories

जनता से नेताओ का रिश्ता आज का नहीं है जनाब हमारा इनका तो खानदानी अफसाना है हां वो बात अलग है काम निकलने के बाद नेता तो क्या अपने भी भूल जाया करते है और काम पड़ने पर तो ...Read More