Mukambal Mohabat - 25 by Abha Yadav in Hindi Fiction Stories PDF

मुकम्मल मोहब्बत - 25

by Abha Yadav Matrubharti Verified in Hindi Fiction Stories

मुकम्मल मोहब्बत -25 मधुलिका का खिला चेहरा देखकर मेरा दिलभी खिल गया. कहना चाहता हूँ उससे-मधुलिका तुम इसी तरह खुश रहा करो.चहकती रहो.मुस्कुराती रहो.मुझे बिंदास मधुलिका चाहिए पहले की तरह उदास, रोती हुई नहीं. लेकिन कह नहीं ...Read More