Kahani Pyar ki - 31 by Dr Mehta Mansi in Hindi Fiction Stories PDF

कहानी प्यार कि - 31

by Dr Mehta Mansi Matrubharti Verified in Hindi Fiction Stories

" आई एम सोरी मोहित पर में तुम्हारे सामने आकर तुम्हारी होली खराब करना नही चाहती..." अंजली एक कोने में छुपकर मोहित को देखती हुई बोली..." शायद ये मेरा भ्रम ही था.. वो यहा क्यों आएगी..!" मोहित निराश होता ...Read More