पेहचान - 20 - मैं तुम्हे पागल दिखती हूँ क्या ?

by Preeti Pragnaya Swain Matrubharti Verified in Hindi Fiction Stories

पीहू बोली अच्छा.....इतना भरोसा ,वैसे ये भरोसा आया कहाँ से ?पहले तो नहीं था ! ओ अच्छा.........अब समझी, तुम्हारी जान बचाई हूँ इसलिए इतना प्यार उमड़ रहा है न मुझ पे? अभिमन्यु बोला अरे! sorry वो बात नहीं है, ...Read More