चंद्रगुप्त - प्रथम अंक - 4

by Jayshankar Prasad in Hindi Novel Episodes

चंद्रगुप्त - प्रथम अंक - 4 ( कुसुमपुर के सरस्वती मंदिर के उपवन का पथ ) राक्षस और सुवासिनी के बीच होता हुआ कुछ वार्तालाप - बौद्ध स्तूप की बातें - रक्षियो के साथ शिविका पर राजकुमारी कल्याणी का प्रवेश - ...Read More