नाम - श्रीमती नीलम सक्सेना 'जयद' निवास - श्री सुशील कुमार सक्सेना 32-अ, गुलाब राय इंटर कॉलेज के पीछे                   प्रगति नगर , बरेली (उत्तर प्रदेश ) माता - स्वर्गीय श्रीमती जयदेवी जी पिता - स्वर्गीय श्री दयानंद सक्सेना जी नाटक का नाम - ' आ घर लौट चलें ' ( एकांकी) शिक्षा - एम .ए ,बी.एड, डी.सी.ए अभिरुचि - लेखन कार्य उपलब्धि - 1 'सरस्वती सम्मान'- के.बी.एस प्रकाशन , दिल्ली  द्वारा               2 ' राजेंद्र मोहन शुक्ला स्मृति हिंदी सेवी सम्मान ' मानव सेवा क्लब द्वारा                 3 'काव्य श्री सम्मान' सर्वोदय विद्यापीठ पचमढ़ी, पिपरिया, मध्य प्रदेश द्वारा                4 ' नाटक श्री सम्मान ' शब्दांगन संस्था द्वारा प्रकाशित नाटक  - ' सेतु  '  प्रकाशित संकलन   - ' वृंदा '                  समय-समय पर अनेकानेक नाटक, कहानी, झलकी,  लघु कथा , कविता , वार्ता, साक्षात्कार आदि का आकाशवाणी (बरेली तथा रामपुर) तथा दूरदर्शन बरेली से प्रसारण एवं पत्र-पत्रिकाओं में प्रकाशन । उत्कृष्टता के आधार पर कुछ नाटकों का पुन: प्रसारण उत्तर प्रदेश तथा उत्तराखंड की सभी आकाशवाणी द्वारा किया गया । आकाशवाणी बरेली से प्रसारित नाटकों में अभिनय  । अनेक प्रकाशकों द्वारा प्रकाशित कक्षा 9 से 12 तक की साहित्यिक एवं सामान्य हिंदी, अंग्रेजी की पुस्तकों के लिए लेखन कार्य किया । कई सामाजिक एवं साहित्यिक संस्थाओं से भी आप जुड़ी हुई हैं।  सद्य  ' मातृ भारती' द्वारा 'आ घर लौट चलें' ( एकांकी ) का प्रकाशन ।

    • (11)
    • 3.6k
    • 3.1k