मै शब्दो को नही, मेरी भावनाओ को लिखता हूँ। तो जो पढना चाहे, एक नि.र.स. कवि को तो साथ आइए। ओर मेरे सहभागी बन मुझे निखारने में मदद किजिए।। धन्यवाद

    • 210
    • 429
    • 603
    • 954
    • 975
    • 1.4k
    • 1.2k
    • 1.6k
    • (12)
    • 3.2k