नाम — राजेश कुमार भटनागर पिता का नाम — स्व. श्री अवध बिहारी लाल भटनागर जन्मः — 18 अक्टूबर, 1961, शैक्षणिक योग्यताः — एम.कॉम.(व्यवसाय प्रशासन), एम.ए.(इतिहास) लेखनः— — सन्‌ 1979 में पहली कहानी आकाश वाणी, जयपुर से प्रसारित । अब तक लगभग 80 कहानियाॅंं व नाटक ”और सूरज डूब गया” आकाश वाणी, जयपुर से प्रसारित — ंविभिन्न राष्ट्रीय पत्र—पत्रिकाओं मधुमती, हरिगंधा, साहित्यनेस्ट, नया कारवां, साहित्य समर्था, नारी अस्मिता, अनुकृति, दैनिक भास्कर, राजस्थान पत्रिका, दैनिक नवज्योति, पंजाब केसरी में कहानियाॅंं व कविताएं ेप्रकाशित । अनुवादः — कहानी—”अकेली“ का राजस्थानी साहित्य अकादमी, बीकानेर की पत्रिका—”जागती जोत“ के नवम्बर, 08 अंक में राजस्थानी भाषा एवं, श्रीमती राजवन्तकौर पंजाबी के कहानी संग्रह—”जु़बान दा कत्ल“ में कहानी ”नीम का पेड़“ का पंजाबी भाषा में अनुवाद । प्रकाषित पुस्तकें — पांच कहानी संग्रह—1— प्रतीक्षा (1998) अभिनव प्रकाषन, अजमेर 2—सन्देहों के घेरे (2009) साहित्यगार, जयपुर 3—आधा सुख आधा चॉंद (2010) किरण पब्लिकेषन, अजमेर (तीनों को राजस्थान साहित्य अकादमी का आर्िर्थक सहयोग प्राप्त) 4—परिवार कल्याण की कहानियॉं— आईना (2013) बोधि प्रकाषन, अजमेर 5— अपना—अपना सुख, (2018) बोधि प्रकाषन, अजमेर — एक शोध ग्रन्थ—”राजस्थान लोक सेवा आयेाग के विकास का इतिहास“ (2011) सर्जना प्रकाषन, बीकानेर पुरस्कार/सम्मान — श्रमजीवी कॉलेज, अजमेर द्वारा उर्मिला देवी कहानी प्रतियोगिता पुरस्कार । — सृजनात्मक लेखन के लिए राजस्थान लोक सेवा आयेाग, अजमेर, संस्कार भारती, अजमेर व मगसम, दिल्ली, उत्तराखण्ड अखिल भारतीय हिन्दी परिषद, देहरादून, काव्यकुल, दादरी, रमानाथ अवस्थी राष्ट्रीय सम्मान, सहित्य समीर दस्तक, भोपाल द्वारा प्रेमचन्द सम्मान व शब्दनिष्ठा सम्मान से सम्मानित । सम्प्रतिः — राजस्थान लोक सेवा आयेाग, अजमेर में सहायक सचिव के पद पर कार्यरत । घर का पताः — एल—27, विवेकानन्द कॉलोनी, अजय नगर, अजमेर (राजस्थान ) मोबाइल नं. — 09413227987

    • (1)
    • 54
    • (3)
    • 52
    • (1)
    • 164
    • (2)
    • 64
    • (4)
    • 2.4k
    • (5)
    • 50
    • (7)
    • 61
    • (4)
    • 57
    • (4)
    • 55
    • (8)
    • 106