Popular Storie on internet, read them free and download

You are at the place of Novels and stories where life is celebrated in words of wisdom. The best authors of the world are writing their fiction and non fiction Novels and stories on Matrubharti, get early access to the best stories free today. novels are the best in category and free to read online.


Languages
Categories
Featured Books

મારા કાવ્યો By Tr. Mrs. Snehal Jani

લીલુંછમ હરીયાળુ જંગલ,
છે લઈને બેઠું પ્રાણવાયુ,
આપે છે રક્ષણ પ્રાણીઓને,
કરે છે પોષણ પ્રાણીઓનું.
જ્યારે પૂરો પાડે છે પ્રાણવાયુ,
નથી જોતું માનવી કે પશુ પક્ષી!
ઘટી રહ્યાં છે જંગલ...

Read Free

नक़ल या अक्ल By Swati

शाम का समय है, सूरज डूबने के लिए तैयार प्रतीत हो रहा है, उत्तरप्रदेश के मालपुरा गॉंव में खेतों की मुँडेर पर किशन और सोमेश बैठे हैं । किशन तो आराम से ढलते सूरज की तरफ देख रहा है तो...

Read Free

अर्धांगिनी-अपरिभाषित प्रेम.. By रितेश एम. भटनागर... शब्दकार

हर तरफ बस एंबुलेंस के सायरन का शोर सुनायी दे रहा था,लोग बदहवास से होकर इधर उधर अपने अपनों को बचाने के लिये भाग रहे थे, पूरी पूरी रात लाइनों मे लगने के बाद भी बहुत से ऐसे लोग रह जात...

Read Free

શ્રાપિત પ્રેમ By anita bashal

શ્રાપિત પ્રેમ, વાર્તા એક સત્ય ઘટના પર આધારિત કાલ્પનિક કહાની છે. આપણી પ્રેમને પવિત્ર માનતા હોઈએ છીએ પણ ક્યારેક આ પવિત્ર પ્રેમ ક્યારે શ્રાપિત બની જાય એ કહેવું મુશ્કેલ હોય છે. રાધા ના...

Read Free

અગ્નિસંસ્કાર By Nilesh Rajput

નંદેસ્વર ગામમાં આજે માત્ર એક જ નામ ગુંજી રહ્યું હતું. " "બલરાજ સિંહ ચૌહાણ". છેલ્લા પંદર વર્ષથી નિરંતર સરપંચ બન્યા બાદ આજ ફરી સરપંચની ચુંટણીમાં બલરાજ સિંહે વિજય પ્રાપ્ત...

Read Free

डेविल सीईओ की मोहब्बत By सलोनी अग्रवाल

एक तरफ है आराध्या श्रीवास्तव जो है बहुत मासूम और चुलबुली सी लड़की जो अपने परिवार से बहुत प्यार करती है और साथ में अपनी छोटी सी दुनिया में बहुत खुश रहती हैं और वही दूसरी तरफ है अर्ज...

Read Free

महिला पुरूषों मे टकराव क्यों ? By Captain Dharnidhar

आपने एक खेल कभी अपने बचपन मे खेला होगा दो दल बच्चो के बनाये जाते है एक दल घोड़ी बन जाता है दूसरे दल वाले उनकी पीठ पर बैठ जाते हैं फिर एक बच्चा पूछता है "धींगा ऊपर कौन चढ़ा ? चढ...

Read Free

The Mystery of the Blue Eye's By Pretty Poision

आज मै फिर से पसीने से लथपत जाग गई । वही नीली आखें आज भी मुझे डराने ओर घबराने पर मजबुर कर देती है।

मै सोफ़िया बोरिंग सी नॉवेल की दुनिया मे ज़ीने वाली लड़की हुँ। मुझे पता नहीं मेरे म...

Read Free

एक सैतानी रात्र By jay zom

रात्रीची वेळ अंगात सफेद रंगाची टीशर्ट आणि खाली निळी जीन्स व पयात चप्पल बूट वगेरे काहीही नव्हत . त्या युवकाला पाहून त्याc वय जेमतेम 19 असाव तो जंगलात एकटाच पळत होता .पळतावेळेस...

Read Free

अफसर का अभिनन्दन By Yashvant Kothari

कामदेव के वाण और प्रजातंत्र के खतरे यशवन्त कोठारी होली का प्राचीन संदर्भ ढूंढने निकला तो लगा कि बसंत के आगमन के साथ ही चारों तरफ कामदेव अपने वाण छोड़ने को आतुर हो जाते हैं मा...

Read Free

મારા કાવ્યો By Tr. Mrs. Snehal Jani

લીલુંછમ હરીયાળુ જંગલ,
છે લઈને બેઠું પ્રાણવાયુ,
આપે છે રક્ષણ પ્રાણીઓને,
કરે છે પોષણ પ્રાણીઓનું.
જ્યારે પૂરો પાડે છે પ્રાણવાયુ,
નથી જોતું માનવી કે પશુ પક્ષી!
ઘટી રહ્યાં છે જંગલ...

Read Free

नक़ल या अक्ल By Swati

शाम का समय है, सूरज डूबने के लिए तैयार प्रतीत हो रहा है, उत्तरप्रदेश के मालपुरा गॉंव में खेतों की मुँडेर पर किशन और सोमेश बैठे हैं । किशन तो आराम से ढलते सूरज की तरफ देख रहा है तो...

Read Free

अर्धांगिनी-अपरिभाषित प्रेम.. By रितेश एम. भटनागर... शब्दकार

हर तरफ बस एंबुलेंस के सायरन का शोर सुनायी दे रहा था,लोग बदहवास से होकर इधर उधर अपने अपनों को बचाने के लिये भाग रहे थे, पूरी पूरी रात लाइनों मे लगने के बाद भी बहुत से ऐसे लोग रह जात...

Read Free

શ્રાપિત પ્રેમ By anita bashal

શ્રાપિત પ્રેમ, વાર્તા એક સત્ય ઘટના પર આધારિત કાલ્પનિક કહાની છે. આપણી પ્રેમને પવિત્ર માનતા હોઈએ છીએ પણ ક્યારેક આ પવિત્ર પ્રેમ ક્યારે શ્રાપિત બની જાય એ કહેવું મુશ્કેલ હોય છે. રાધા ના...

Read Free

અગ્નિસંસ્કાર By Nilesh Rajput

નંદેસ્વર ગામમાં આજે માત્ર એક જ નામ ગુંજી રહ્યું હતું. " "બલરાજ સિંહ ચૌહાણ". છેલ્લા પંદર વર્ષથી નિરંતર સરપંચ બન્યા બાદ આજ ફરી સરપંચની ચુંટણીમાં બલરાજ સિંહે વિજય પ્રાપ્ત...

Read Free

डेविल सीईओ की मोहब्बत By सलोनी अग्रवाल

एक तरफ है आराध्या श्रीवास्तव जो है बहुत मासूम और चुलबुली सी लड़की जो अपने परिवार से बहुत प्यार करती है और साथ में अपनी छोटी सी दुनिया में बहुत खुश रहती हैं और वही दूसरी तरफ है अर्ज...

Read Free

महिला पुरूषों मे टकराव क्यों ? By Captain Dharnidhar

आपने एक खेल कभी अपने बचपन मे खेला होगा दो दल बच्चो के बनाये जाते है एक दल घोड़ी बन जाता है दूसरे दल वाले उनकी पीठ पर बैठ जाते हैं फिर एक बच्चा पूछता है "धींगा ऊपर कौन चढ़ा ? चढ...

Read Free

The Mystery of the Blue Eye's By Pretty Poision

आज मै फिर से पसीने से लथपत जाग गई । वही नीली आखें आज भी मुझे डराने ओर घबराने पर मजबुर कर देती है।

मै सोफ़िया बोरिंग सी नॉवेल की दुनिया मे ज़ीने वाली लड़की हुँ। मुझे पता नहीं मेरे म...

Read Free

एक सैतानी रात्र By jay zom

रात्रीची वेळ अंगात सफेद रंगाची टीशर्ट आणि खाली निळी जीन्स व पयात चप्पल बूट वगेरे काहीही नव्हत . त्या युवकाला पाहून त्याc वय जेमतेम 19 असाव तो जंगलात एकटाच पळत होता .पळतावेळेस...

Read Free

अफसर का अभिनन्दन By Yashvant Kothari

कामदेव के वाण और प्रजातंत्र के खतरे यशवन्त कोठारी होली का प्राचीन संदर्भ ढूंढने निकला तो लगा कि बसंत के आगमन के साथ ही चारों तरफ कामदेव अपने वाण छोड़ने को आतुर हो जाते हैं मा...

Read Free