Best Comedy stories Books Free And Download PDF

Matrubharti is the unique free online library if you are finding Comedy stories, because it brings beautiful stories and it keeps putting latest stories by the authors across the world. Make this page as favorite in your browser to get the updated stories for yourself. If you want us to remind you about touching new story in this category, please register and login now.


Languages
Categories
Featured Books

હાસ્ય મંજન - 9 - ચાલવું ને ચલાવી લેવું પણ એક આર્ટ છે By Ramesh Champaneri

               ચાલવું ને ચલાવી લેવું પણ એક ‘આર્ટ’ છે..!                                                ડબલાંમાંથી કબુતર કાઢવું, ગળામાંથી ૩૩ કોટીના અવાજ કાઢવા, કે સરકસમાં આકાશી હિંચ...

Read Free

ఒరేయ్ బావ - ఒసేయ్ మరదలా - 16 By Devanshika Janu

అభి అప్పుడు చేరుకొని పళ్ళు బిగిపెట్టి “ ఒకే సార్ నేను తనతో కొంచెం సేపు మాట్లడి పంపిస్తాను ..... “ అనగానే “ ఓకే అభి డైరెక్ట్ గా తనని ట్రైనర్ దగ్గరికి పంపించేయ్ ..... “ అని చెప్పి మే...

Read Free

हास्य का तड़का - 32 By Devaki Ďěvjěěţ Singh

पहली नौकरी के मिलते ही लड़के छोकरी के बारे में सोचने लगते है आखिर उनके कमाये हुए पैसों को खर्च करने वाली भी तो कोई चाहिए बस यहीं से शुरू होती हैं डबल नौकरी पड़ोसी - यार तेरे घर से...

Read Free

एकापेक्षा - 7 By Gajendra Kudmate

आता एक तीसरा अधिक रंजक आणि हास्यासपद असा प्रसंग तुम्हाला सांगतो आणि मंग तुमची पुन्हा रजा घेतो. तर हा प्रसंग आहे डालू याचा, गोंधळून जाऊ नका. हा प्रसंग संदीप या मुलाचा आहे ज्याला आम्...

Read Free

आती क्या खंडाला By Dr. Pradeep Kumar Sharma

आती क्या खंडाला... "ए जी।" श्रीमती जी ने बहुत ही प्यार से कहा। "हाँ जी, फरमाइए।" श्रीमान् जी अखबार को साइड में रखते हुए बोले। "एक बात पूछनी थी जी आपसे।" श्रीमती जी ने सकुचाते हुए क...

Read Free

छपास रोग  By Dr. Pradeep Kumar Sharma

छपास रोग ‘‘हलो।’’ मोबाइल उठाते ही मैंने कहा। ‘‘नमस्कार डाॅक्टर साहब।’’ उधर से आवाज आई। ‘‘नमस्कार, माफ कीजिएगा आपका नम्बर मेरे मोबाइल में सेव नहीं होने से मैं पहचान नहीं पा रहा हूँ...

Read Free

मक्खन बाजी By Dr. Pradeep Kumar Sharma

मक्खन बाजी "कहाँ जाने की तैयारी है ?" पति देव को तैयार होते देख श्रीमती जी ने पूछा। "आफिस और कहाँ जानेमन, मियां की दौड़ मस्जिद तक की ही होती है। घर से ऑफिस और ऑफिस से सीधे आपकी दरबा...

Read Free

ત્રણ હાસ્ય રચના By Jatin Bhatt... NIJ

1. પાર્કિંગ પાર્કિંગ ની એવી તો સમસ્યા છે કે તમને શું કહું...એક વખત હું અને ઘરવાળી (મારી જ દોસ્તો) ફોર વ્હીલ લઈ શાક લેવા નીકળ્યા. એને માર્કેટ ઉતારી હું પાર્કિંગ માટેની જગ્યા શોધવા ન...

Read Free

नववर्ष की बधाइयां शुभकामनाएं By Sudhir Srivastava

व्यंग्य आलेख- नववर्ष की बधाइयां शुभकामनाएं********************* हमारी भारतीय संस्कृति में दूसरों की खुशियों पर बधाइयां और शुभकामना देने का सिलसिला कब हिस्सा बन गया ये शोध का विषय ह...

Read Free

नाम परिवर्तन By Dr. Pradeep Kumar Sharma

नाम परिवर्तन "देखिए देवी जी, मैं आपका पति नहीं हूँ न ही आप मेरी पत्नी हैं। बेवजह क्यों मेरे पीछे पड़ी हैं।" वह एकदम से झुंझलाते हुए बोला। "देखो, आज मैं मजाक के मूड में बिलकुल भी नह...

Read Free

मोबाइल महात्म्य By Dr. Pradeep Kumar Sharma

मोबाइल महात्म्य “अजी सुनिये तो।” कहती हुईं हमारी श्रीमती जी मोबाइल हाथ में पकड़े मेरे सामने आकर खड़ी हो गईं। “अजी सुनाइए तो...” हमने भी अपनी मोबाइल से नज़रें हटा कर श्रीमती जी को प्या...

Read Free

चरणनंदन का अभिनंदन - 2 By Tripti Singh

चचा ने अपना वही जूता जो उन्होंने चरणनंदन को फेंक के मारा था, उसे जल्दी से लपक के ले आए ! और फिर क्या हुआ ?फिर उन्होंने ना आव देखा न ताव लगे चरणनंदन पर बरसाने वह इतने ज्यादा गुस्से...

Read Free

अपराधी By funny stories

अपराधीएक दिन राजा कॄष्णदेव राय व उनके दरबारी, दरबार में बैठे थे। तेनाली राम भी वहीं थे । अचानक एक चरवाहा वहॉ आया और बोला, ” महाराज, मेरी सहायता कीजिए। मेरे साथ न्याय कीजिए।”“बताओ,...

Read Free

बाबू जी की मुक्त शैली पिटाई - 2 By संदीप सिंह (ईशू)

बाबू जी की मुक्त शैली पिटाई - 2उपरोक्त सभी कारण वैधानिक होते थे, किंतु कई लोगों के कृत्य जो कुकृत्य की श्रेणी मे आते थे उन्हे यहाँ उल्लेखित नहीं किया जा सकता। इसका कार्यकाल अक्सर क...

Read Free

अपमान का बदला By funny stories

अपमान का बदलातेनालीराम ने सुना था कि राजा कृष्णदेव राय बुद्धिमानों व गुणवानों का बड़ा आदर करते हैं। उसने सोचा, क्यों न उनके यहाँ जाकर भाग्य आजमाया जाए। लेकिन बिना किसी सिफारिश के र...

Read Free

ગાણિતિક લગ્નની કંકોત્રી By Tr. Mrs. Snehal Jani

કંકોત્રી:- ગાણિતિક લગ્નરચયિતા:- શ્રીમતી સ્નેહલ રાજન જાની.નમસ્તે વાચકમિત્રો અને સખીઓ. તમે લગ્નની કંકોત્રીઓ તો ઘણી વાંચી હશે. આમાંની કેટલીક એકદમ અલગ પ્રકારની પણ હશે. આવી જ એક અલગ પ્ર...

Read Free

अन्तिम इच्छा By funny stories

अन्तिम इच्छा समय के साथ-साथ राजा कॄष्णदेव राय की माता बहुत वॄद्ध हो गई थीं। एक बार वह बहुत बीमार पड गई। उन्हें लगा कि अब वे शीघ्र ही मर जाएँगी। उन्हें आम से बहुत था, इसलिए जीवन के...

Read Free

लॉक डाऊन मधील हळदीकुंकू By Kalyani Deshpande

आमच्या सोसायटीतल्या सगळ्या महिलांनी सोशल डिस्टनसिंग पाळून का होईना पण दरवर्षी प्रमाणे ह्या ही वर्षी जरी सर्वत्र कोरोनाचा प्रादुर्भाव असला तरीही योग्य ती खबरदारी घेऊन क्लब हाऊस मध्य...

Read Free

हवा और सूरज By Dinesh

1. कर्म बड़ा या भाग्यएक बार देवर्षि नारदजी वैकुंठधाम गए, वहां उन्होंने भगवान विष्णु का नमन किया । नारद ने श्रीहरि से कहा, 'प्रभु! पृथ्वी पर अब आपका प्रभाव कम हो रहा है। धर्म पर...

Read Free

હાસ્ય મંજન - 9 - ચાલવું ને ચલાવી લેવું પણ એક આર્ટ છે By Ramesh Champaneri

               ચાલવું ને ચલાવી લેવું પણ એક ‘આર્ટ’ છે..!                                                ડબલાંમાંથી કબુતર કાઢવું, ગળામાંથી ૩૩ કોટીના અવાજ કાઢવા, કે સરકસમાં આકાશી હિંચ...

Read Free

ఒరేయ్ బావ - ఒసేయ్ మరదలా - 16 By Devanshika Janu

అభి అప్పుడు చేరుకొని పళ్ళు బిగిపెట్టి “ ఒకే సార్ నేను తనతో కొంచెం సేపు మాట్లడి పంపిస్తాను ..... “ అనగానే “ ఓకే అభి డైరెక్ట్ గా తనని ట్రైనర్ దగ్గరికి పంపించేయ్ ..... “ అని చెప్పి మే...

Read Free

हास्य का तड़का - 32 By Devaki Ďěvjěěţ Singh

पहली नौकरी के मिलते ही लड़के छोकरी के बारे में सोचने लगते है आखिर उनके कमाये हुए पैसों को खर्च करने वाली भी तो कोई चाहिए बस यहीं से शुरू होती हैं डबल नौकरी पड़ोसी - यार तेरे घर से...

Read Free

एकापेक्षा - 7 By Gajendra Kudmate

आता एक तीसरा अधिक रंजक आणि हास्यासपद असा प्रसंग तुम्हाला सांगतो आणि मंग तुमची पुन्हा रजा घेतो. तर हा प्रसंग आहे डालू याचा, गोंधळून जाऊ नका. हा प्रसंग संदीप या मुलाचा आहे ज्याला आम्...

Read Free

आती क्या खंडाला By Dr. Pradeep Kumar Sharma

आती क्या खंडाला... "ए जी।" श्रीमती जी ने बहुत ही प्यार से कहा। "हाँ जी, फरमाइए।" श्रीमान् जी अखबार को साइड में रखते हुए बोले। "एक बात पूछनी थी जी आपसे।" श्रीमती जी ने सकुचाते हुए क...

Read Free

छपास रोग  By Dr. Pradeep Kumar Sharma

छपास रोग ‘‘हलो।’’ मोबाइल उठाते ही मैंने कहा। ‘‘नमस्कार डाॅक्टर साहब।’’ उधर से आवाज आई। ‘‘नमस्कार, माफ कीजिएगा आपका नम्बर मेरे मोबाइल में सेव नहीं होने से मैं पहचान नहीं पा रहा हूँ...

Read Free

मक्खन बाजी By Dr. Pradeep Kumar Sharma

मक्खन बाजी "कहाँ जाने की तैयारी है ?" पति देव को तैयार होते देख श्रीमती जी ने पूछा। "आफिस और कहाँ जानेमन, मियां की दौड़ मस्जिद तक की ही होती है। घर से ऑफिस और ऑफिस से सीधे आपकी दरबा...

Read Free

ત્રણ હાસ્ય રચના By Jatin Bhatt... NIJ

1. પાર્કિંગ પાર્કિંગ ની એવી તો સમસ્યા છે કે તમને શું કહું...એક વખત હું અને ઘરવાળી (મારી જ દોસ્તો) ફોર વ્હીલ લઈ શાક લેવા નીકળ્યા. એને માર્કેટ ઉતારી હું પાર્કિંગ માટેની જગ્યા શોધવા ન...

Read Free

नववर्ष की बधाइयां शुभकामनाएं By Sudhir Srivastava

व्यंग्य आलेख- नववर्ष की बधाइयां शुभकामनाएं********************* हमारी भारतीय संस्कृति में दूसरों की खुशियों पर बधाइयां और शुभकामना देने का सिलसिला कब हिस्सा बन गया ये शोध का विषय ह...

Read Free

नाम परिवर्तन By Dr. Pradeep Kumar Sharma

नाम परिवर्तन "देखिए देवी जी, मैं आपका पति नहीं हूँ न ही आप मेरी पत्नी हैं। बेवजह क्यों मेरे पीछे पड़ी हैं।" वह एकदम से झुंझलाते हुए बोला। "देखो, आज मैं मजाक के मूड में बिलकुल भी नह...

Read Free

मोबाइल महात्म्य By Dr. Pradeep Kumar Sharma

मोबाइल महात्म्य “अजी सुनिये तो।” कहती हुईं हमारी श्रीमती जी मोबाइल हाथ में पकड़े मेरे सामने आकर खड़ी हो गईं। “अजी सुनाइए तो...” हमने भी अपनी मोबाइल से नज़रें हटा कर श्रीमती जी को प्या...

Read Free

चरणनंदन का अभिनंदन - 2 By Tripti Singh

चचा ने अपना वही जूता जो उन्होंने चरणनंदन को फेंक के मारा था, उसे जल्दी से लपक के ले आए ! और फिर क्या हुआ ?फिर उन्होंने ना आव देखा न ताव लगे चरणनंदन पर बरसाने वह इतने ज्यादा गुस्से...

Read Free

अपराधी By funny stories

अपराधीएक दिन राजा कॄष्णदेव राय व उनके दरबारी, दरबार में बैठे थे। तेनाली राम भी वहीं थे । अचानक एक चरवाहा वहॉ आया और बोला, ” महाराज, मेरी सहायता कीजिए। मेरे साथ न्याय कीजिए।”“बताओ,...

Read Free

बाबू जी की मुक्त शैली पिटाई - 2 By संदीप सिंह (ईशू)

बाबू जी की मुक्त शैली पिटाई - 2उपरोक्त सभी कारण वैधानिक होते थे, किंतु कई लोगों के कृत्य जो कुकृत्य की श्रेणी मे आते थे उन्हे यहाँ उल्लेखित नहीं किया जा सकता। इसका कार्यकाल अक्सर क...

Read Free

अपमान का बदला By funny stories

अपमान का बदलातेनालीराम ने सुना था कि राजा कृष्णदेव राय बुद्धिमानों व गुणवानों का बड़ा आदर करते हैं। उसने सोचा, क्यों न उनके यहाँ जाकर भाग्य आजमाया जाए। लेकिन बिना किसी सिफारिश के र...

Read Free

ગાણિતિક લગ્નની કંકોત્રી By Tr. Mrs. Snehal Jani

કંકોત્રી:- ગાણિતિક લગ્નરચયિતા:- શ્રીમતી સ્નેહલ રાજન જાની.નમસ્તે વાચકમિત્રો અને સખીઓ. તમે લગ્નની કંકોત્રીઓ તો ઘણી વાંચી હશે. આમાંની કેટલીક એકદમ અલગ પ્રકારની પણ હશે. આવી જ એક અલગ પ્ર...

Read Free

अन्तिम इच्छा By funny stories

अन्तिम इच्छा समय के साथ-साथ राजा कॄष्णदेव राय की माता बहुत वॄद्ध हो गई थीं। एक बार वह बहुत बीमार पड गई। उन्हें लगा कि अब वे शीघ्र ही मर जाएँगी। उन्हें आम से बहुत था, इसलिए जीवन के...

Read Free

लॉक डाऊन मधील हळदीकुंकू By Kalyani Deshpande

आमच्या सोसायटीतल्या सगळ्या महिलांनी सोशल डिस्टनसिंग पाळून का होईना पण दरवर्षी प्रमाणे ह्या ही वर्षी जरी सर्वत्र कोरोनाचा प्रादुर्भाव असला तरीही योग्य ती खबरदारी घेऊन क्लब हाऊस मध्य...

Read Free

हवा और सूरज By Dinesh

1. कर्म बड़ा या भाग्यएक बार देवर्षि नारदजी वैकुंठधाम गए, वहां उन्होंने भगवान विष्णु का नमन किया । नारद ने श्रीहरि से कहा, 'प्रभु! पृथ्वी पर अब आपका प्रभाव कम हो रहा है। धर्म पर...

Read Free