Best Love Stories stories in hindi read and download free PDF

सजना साथ निभाना--भाग(१)
by Saroj Verma

फ़रवरी की हल्की ठंड!! सेठ धरमदास का हवेलीनुमा मकान जो उनके दादा जी ने बनवाया था,समय के साथ-साथ मकान में भी आधुनिक परिवर्तन किए गए,नये बाथरूम बनाए गए, सहूलियत ...

दर्द ए इश्क - 8
by Heena katariya
  • 300

विकी मुस्कुराते हुए अपनी कार गेरेज में पार्क करता है । वह ऐसे ही सोचते सोचते घर के अंदर कब चला जाता है उसे पता ही नहीं चलता। वह ...

Love in Corona
by Swatigrover
  • 279

"हाँ, नियति मैं कोरोना पॉजिटिव हो गया हूँ । मैंने डॉक्टर से बात कर ली है । मैं एकांतवास में रहूँगा इसके लिए मुझे मसूरी जाना पड़ेगा । मैं ...

मीता एक लड़की के संघर्ष की कहानी - अध्याय - 17 अंतिम भाग
by Bhupendra Kuldeep
  • 210

अध्याय-17अंतिम भागमि. शर्मा अंदर गये तो मीता को जागा हुआ देख खुश हो गए। उन्हें रोना आ गया ओर वो वही स्टूल में बैठकर सुबकने लगे।मीता ने उनका हाथ ...

कामनाओं के नशेमन - 1
by Husn Tabassum nihan
  • 399

कामनाओं के नशेमन हुस्न तबस्सुम निहाँ 1 दरवाजे बहुत होते हैं, कुछ सहजता के साथ खुल जाने वाले और कुछ दरवाजे बहुत खटखटाने के बाद खुलने वाले। उतना अर्थ ...

कातिल
by Monty Khandelwal
  • 405

अरे सुनो काका जी आज ये  रास्ते में जाम कीस बात का लगा हे और ये सब लोग भाग - भाग कर क्यों जा रहे हैं क्या हुआ हैं ...

शायरा
by S Choudhary
  • 360

हाय अल्ला-अब्बू! अब क्या होगा?रोहित-कहाँ है?शायरा-वो रहे सामने।रोहित-तुम्हे देखा तो नही?शायरा-पता नही।रोहित-अपने मुँह को दुप्पट्टे से ढक लो अच्छे से।शायरा(लगभग रोते हुए)-वो पहचान लेंगे,अब क्या होगा।रोहित-कुछ नही होगा,तुम इधर चेहरा ...

My One Sided Love - 3
by Shubham Singh
  • 171

कृष - ओके पापा.माँ मै चलता हूँ। (कृष माँ के पैर छूता है और बहन को गले लगा कर बाहर आकर ऑटो में बैठ जाता है) (मेरे पापा भी उसके ...

नैना अश्क ना हो... - भाग - 7
by Neerja Pandey
  • 330

   शांतनु जी ने अपने दुख को अपने जब्त कर लिया था।   उन्होंने निश्चय किया की मै जब तक जीवित हूं ,नव्या के   आस पास भी गम की छाया ...

अनचाहा रिश्ता (कही घूम आए) - 4
by Veena
  • 405

( अब तक आपने पढ़ा, स्वप्निल की तसल्ली के लिए समीर मीरा से उसके कुछ निजी सवाल पूछ लेता है। जिस के बाद स्वप्निल ओर मीरा गलती से एक ...

मीता एक लड़की के संघर्ष की कहानी - अध्याय - 16
by Bhupendra Kuldeep
  • 255

अध्याय-16मीता जब कोर्ट अंदर गई तो सुबोध किसी और काम में व्यस्त था। जैसे ही उसकी आँखे चार हुई उसका दिल धक्क से हुआ।साईलेंस। प्लीज थोड़ा शांति बनाए रखिए ...

मिले जब हम तुम - 36- (अंतिम भाग..)
by Komal Talati
  • (15)
  • 483

भाग - ३६                आद्रिती को महसूस हुआ कि देव सपने मे नही हकिकत मे हे और उसके बहुत ही करीब तो वह हदबडाते हुए देव से दूर हो ...

दर्द ए इश्क - 7
by Heena katariya
  • 360

वीकी खाई के पास ऐसे ही बैठा था। की तभी किसी लड़की के चिलाने की आवाज आती हैं । जिससे विकी इधर उधर देखता है । पर फिर वह ...

मीता एक लड़की के संघर्ष की कहानी - अध्याय - 15
by Bhupendra Kuldeep
  • 444

अध्याय-15मीता के पापा अचानक उसकी ओर भागे तब तक सुबोध गाड़ी में बैठ चुका था। सुबोध बेटा सुबोध। एक मिनट।ड्राईवर एक मिनट रूको। जी बोलिए।बेटा तुमसे कुछ बात करनी ...

मिले जब हम तुम - 35
by Komal Talati
  • 543

भाग - ३५           थोडीदेर मे दोनों डाइनिंग टेबल पर आए जहा रुचि और शालिनी पहले से उनका इंतजार कर रहे थे... शालिनी  खाना परोसते हुए रुचि से कहती ...

दर्द ए इश्क - 6
by Heena katariya
  • (14)
  • 561

विक्रम फ्रेश होने के बाद जैसे ही अपनी मॉम के पास जाता है तभी विक्रम की मॉम विकी को टेबल पर बैठने के लिए कहती है वह टेबल पर ...

दोस्ती और प्यार
by DrSonika Sharma
  • 528

 ज्योति का मूड आज सुबह से ही ऑफ था रात को उसने अपना मोबाइल फोन ऑफ करके चार्जिंग में लगाया और सुबह जब चार्जिंग में से फोन निकाल कर ...

अनफॉरट्यूनेट ली इन लव ( चलो फिर मिलते है) - 4
by Veena
  • 270

रात भर वह पूरी तरह अवसाद की स्थिति में डूबी रही।  कमरे के भीतर का मिजाज भयानक था।  सबसे भयावह बात है, उसने उसे फिर से आमंत्रित किया, लेकिन ...

रेवती रमन- अधूरे इश्क की पूरी कहानी - 2
by RISHABH PANDEY
  • 1.1k

“हमे कोई प्यार कर ले झूठा ही सही..........हममम हमममम” (रमन और उसके कुछ दोस्त इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के कैम्पस में बैठे कर कॉलेज के दिनों का सबसे सुन्दर समय व्यतीत ...

दर्द ए इश्क - 5
by Heena katariya
  • 450

विक्रम घर पहूंचते ही अपनी मॉम को ढूंढ़ता है जब वह उन्हे कही नही मिली तो वह किचेन में देखता है वह बरतन साफ कर रही थी जिससे विक्रम ...

मीता एक लड़की के संघर्ष की कहानी - अध्याय - 14
by Bhupendra Kuldeep
  • 474

अध्याय-14ये खबर तत्काल आग की तरह फैल गई। उसके पापा के पास जैसे ही ये खबर पहुँची वो विचलित हो गए। उन्होंने तुरंत अपने एक वकील मित्र को फोन ...

मिले जब हम तुम - 34
by Komal Talati
  • (12)
  • 669

भाग - ३४         दोनों ही एकदुसरे की धडकनो को महसूस कर पा रहे थे... कि तभी देव के फोन की रिंग बजती है... फोन शालिनी का था... उनसे ...

My One Sided Love - 2
by Shubham Singh
  • 462

किचन से माँ की आवाज आती है” कृष उठ जा ,तेरे पापा ऑटो लेने गए हैं, कहीं तेरी ट्रैन ना निकल जाए ” कृष  माँ की आवाज सुन कर उबासी लेते ...

मिले जब हम तुम - 33
by Komal Talati
  • 579

. भाग - ३३               रुचि वहाँसे निकलकर सीधे देव के घर जाती है  , वह इतनी आसानी से देव और आद्रिती को एक होते नही देख सकती थी... ...

अनफॉरट्यूनेटली इन लव ( चलो फिर मिलते है) - 3
by Veena
  • 363

पूरे एक हफ्ते बाद, टोंग नीयन का मूड अभी भी पहले से भी गहरे, गहरे समुद्र में डूब गया है। उसका वी चैट खाली है।  चाहे कितने भी अभिवादन, मौसम ...

दर्द ए इश्क - 4
by Heena katariya
  • 534

विकी रूम में नाश्ता कर रहा था तभी एयरहोस्टेस फ्रेश होकर आती हैं जिस पर विकी उसे कॉम्प्लीमेंटस देता है तो वह थैक्यू कहकर नाश्ता करने विकी साथ ही ...

मीता एक लड़की के संघर्ष की कहानी - अध्याय - 13
by Bhupendra Kuldeep
  • 423

अध्याय-13एक दिन दीपक अपने पिता की आय का काला चिट्ठा लेकर घर आया। सुनो। ये फाईल रखो इसकी पूरी जवाबदारी तुम्हारी है। दीपक बोला।क्या है ये ?तुम फाईल खोलकर देखो ...

संदली दरवाज़ा
by Sudha Om Dhingra
  • (11)
  • 999

संदली दरवाज़ा सुधा ओम ढींगरा बस में चढ़ते ही उसने महसूस किया, बस पूरी तरह से भरी हुई है। वह बस का डंडा पकड़ कर, सँभल कर खड़ी हो ...

मीता एक लड़की के संघर्ष की कहानी - अध्याय - 12
by Bhupendra Kuldeep
  • (11)
  • 552

अध्याय-12होश में आने के बाद वो अस्पताल के बिस्तर पर पड़े पड़े रो रहा था उसका बड़ा भाई सामने ही बैठा था।उसने मुझे धोखा दे दिया है भैया। वो ...

मिले जब हम तुम - 32
by Komal Talati
  • (12)
  • 813

...भाग - ३२                 देव के आँसू उसके गालो को छुकर आद्रिती के गालो पर टपकने लगे थे... गिरने की वजहसे आद्रिती को चोट तो लगी थी पर वह ...