Best Love Stories stories in hindi read and download free PDF

मुलाकात - 1
by दिलीप कुमार
  • 96

शाम का समय था... हल्की हल्की हवाओं के साथ छोटी छोटी बारिस की बूंदे पड़ रही थी। बड़ा ही सुहाना मौसम था...मैं ग्राउंड में टहल रहा था अचानक मेरे ...

कोरोना - एक प्रेम कहानी - 6
by Neha sharma
  • 126

भाग- 6 गली एकदम सुनसान थी। दूर-दूर तक कोई इंसान नहीं दिखाई पड़ रहा था। दिख रहे थे तो सिर्फ ईट की बुनियाद पर खड़े हुए मकान। सभी लोग ...

त्याग
by Saroj Verma
  • 240

अरे, बड़ी ठाकुराइन आपकी परेशानी दूर करने का उपाय लेकर आए हैं,अब ज्यादा दुखी होबे की जरूरत ना है,मनकी काकी भागते हुए आई। ठाकुराइन चित्रलेखा के चेहरे की उदासी ...

खूबसूरत बला
by Narendra Rajput
  • 252

खूबसूरत बला यह कहानी है अमित नाम के एक लड़के की। अमित एक दिन एक लड़की का पीछा करते हुए उसके घर तक गया और उसके घर का पता ...

अनफॉरट्यूनेटली इन लव (प्रेमि और प्रेमिका?) 18
by Veena
  • 135

उसका दिमाग सुन्न हो गया, और वह बिल्कुल नहीं जानती थी कि उसे क्या कहना चाहिए। उसका मुँह थोड़ा खुल गया, और घबड़ाकर, मूर्खता से, वो उसे घूरती रहीं। एक ही ...

देहगंध
by Kanupriya Gupta
  • 657

उसने इत्र की शीशी अपने दाहिने हाथ में ली और अपने बाएं हाथ की तरफ धीरे से बढ़ा दी ,हथेली को उल्टा करके रुई के फाहे से उसपर खुशबू ...

360 डिग्री वाला प्रेम - 24
by Raj Gopal S Verma
  • 222

२४. दिन निकल रहे थे ऐसे ही. बीच में तीन दिन के लिए अरु अपनी मम्मी-पापा से मिलने सहारनपुर भी गई. उसका चचेरा भाई आकर लिवा ले गया था. ...

कोरोना - एक प्रेम कहानी - 5
by Neha sharma
  • 276

भाग - 5 अगली सुबह सूर्य देव परदो की ओट से झांकने लगते है। सूर्य की एक रंगीन किरण परदो के बीच से अपना रास्ता बनाते हुए लिली के ...

इंटरनेट वाला लव - 3
by Mehul Pasaya
  • 321

Internet wala love? अरे तरुन वोह सब काम हो गयाना हा सर हो गया ओके और वोह रेहान को काम दिया था वोह हुआ की नही। अरे सर डोंट ...

किस्मत
by दिलीप कुमार
  • 402

                                                ? किस्मत........        ...

इश्क़ है तुमसे
by दिलीप कुमार
  • 420

                                                  इश्क़ है तुमसे....रात काफी ...

ये वादा रहा...
by NISHA SHARMA ‘YATHARTH’
  • 324

ये क्या कर रहे हो तुम? मन्नत माँग रहा हूँ! मन्नत! हाँ मन्नत!अपना हाथ दो,इधर। ओह्ह!तुमनें यहाँ मन्नत का धागा बाँधा है क्या? हाँ! हाँ,मैंने एक मूवी में भी ...

बचपन की बारिश और काग़ज की नाव
by Saroj Verma
  • 246

सेवासदन वृद्धाश्रम__ अरे,किशन!आज तूने पोहा तो बहुत अच्छा बनाया हैं, मिस्टर गुप्ता बोले।।      चलिए गुप्ता अंकल आपको कुछ तो पसंद आया मेरे हाथ का,किशन बोला।। हाँ...हाँ...रोज से तो ...

हमेशा अकेली
by नाथूराम जाट
  • 234

बात कुछ यू शुरू हुई, कॉलेज के दिन थे बड़े मजे वाले एक साल पूरा हुआ भी नहीं की फ़ोन की खुशी, नया था तो, धीरे धीरे सोशल मीडिया ...

में और महराज - 3
by Veena
  • 339

जगह राजकुमारी शायरा का कमरा " उदास मत होइए राजकुमारी जी।" मौली ने उसका हाथ पकड़ते हुए कहा।" हम कर क्या सकते है मौली? एक राजकुमारी होते हुए इतने बेबस ...

विवाह (भाग-1)
by Anju Malhotra
  • 399

रोहित - "आओ दीदी, अब खाना बनाओ जल्दी से। मुझे बहुत भूख लग रही है । "मानसी -  मैं क्यूँ ? मम्मी कहाँ है ?रोहित - वो हमारे लिऐ ...

360 डिग्री वाला प्रेम - 23
by Raj Gopal S Verma
  • 444

२३. हंसी-खेल नहीं है असली जिंदगी थोड़ी देर वर्तिका के पास बैठी वह. उसके पास स्कूल-कॉलेज की गप्पबाजियों का खजाना था. वर्तिका भी उसे बहुत पसंद करती थी. उसका ...

मेरी अधूरी कहानी
by दिलीप कुमार
  • 483

बात उन दिनों की है जब मैं 8वी कक्षा मे था। ठंडी का मौसम था,खूब कड़ाके की ठंड पड़ रही थी,मैं अपने कक्षा में जूते मौजे हाथ में दास्ताने ...

गरीब की दोस्ती - 1
by Harsh Parmar
  • 315

       एक गरीब लड़का था एक छोटे से गांव मे रहता था.फेमिली मे उसकी माँ और उसका पापा ही था | बाप बहुत बीमार रहता था और ...

कोरोना - एक प्रेम कहानी - 4
by Neha sharma
  • 348

भाग- 4 सहसा पीछे से आई आवाज सुन कर लिली के कदम चलते- चलते रुक जाते है। उसकी आंखों में एक नई चमक आ जाती है। पता नहीं क्यों ...

360 डिग्री वाला प्रेम - 22
by Raj Gopal S Verma
  • 342

२२. कुछ उलझन आज डिनर के लिए सबको कैंट एरिया में जाना था. राजेश जी के बचपन के मित्र लखनऊ कैंट में एक वरिष्ठ अधिकारी थे जिन्होंने आज परिवार ...

अनचाहा रिश्ता - (ये औरते ) 14
by Veena
  • 867

दिन बीत रहे थे। धीरे धीरे ही सही पर एक अच्छी दोस्ती की शुरुवात तो हो रही थी। मीरा की पसंद नापसंद से लेकर सारी बातो का ध्यान रखता ...

कोरोना - एक प्रेम कहानी - 3
by Neha sharma
  • 501

भाग-3   "भाई शेखर कुमार बेटी लिली की देखभाल ने बहुत अच्छा असर दिखाया है। तुम्हारी सारी रिपोर्टस पहले से बहुत बेहतर है" - डॉक्टर त्रिपाठी फाइल में एक ...

360 डिग्री वाला प्रेम - 21
by Raj Gopal S Verma
  • 423

२१. संदेह और असमंजसता का चक्र एक बार फिर जाकर देखा आरिणी ने. कोई अंतर नहीं था… आरव एक अबोध शिशु की भाँति निद्रामग्न था. उसने कोशिश की जगाने ...

इंटरनेट वाला लव - 2
by Mehul Pasaya
  • 423

"से जोइन कर्लेना ओके और हा टाईम पे आना और रुल्स को फोल्लोव करना""ओके सर""हम्म""सो सी यु सर""श्योर डीयर श्योर। जी""यार बोरिंग हो रहा हू क्या करू क्या करू ...

कोरोना - एक प्रेम कहानी - 2
by Neha sharma
  • 606

भाग - 2 नीचे लिविंग रूम में सोफे पर बैठे हुए शेखर कुमार अखबार पढ़ रहे थे। लिविंग रूम के बगल में ही बने मंदिर में बैठकर दादी अपनी ...

मे और महराज - 2
by Veena
  • 648

" एक मर्द और औरत को अपने बीच सही अंतर बनाएं रखना चाहिए। मेरा आपको पकड़ना गलत होगा।" उसके शब्द स्पष्ट थे।" अरे तुम बोहोत ज्यादा सोच रहे हो। ...

360 डिग्री वाला प्रेम - 20
by Raj Gopal S Verma
  • 372

२०. रोमांच… नहीं, कुछ असमंजस धीरे-धीरे मेहमान जाने लगे थे. एक-एक करके सब चले गये शाम तक. घर में बचे मात्र वही-- राजेश प्रताप सिंह, उर्मिला, आरव, वर्तिका और ...

कोरोना - एक प्रेम कहानी - 1
by Neha sharma
  • 1.1k

भाग- 1 अचानक से खिड़की की तरफ से आई बॉल के कारण टेबल पर रखा पानी का गिलास टूट जाता है। पास ही सोफे पर बैठी लिली, जो अपना ...

360 डिग्री वाला प्रेम - 19
by Raj Gopal S Verma
  • 465

१९. विवाह और आगे कहते हैं समय और पैसा-- दोनों के पंख होते हैं. जब सोचते हैं कि समय यहीं रुक जाए, तो वह कुछ और गति से बढ़ने ...