Sarhado ka ishq by Sarvesh Saxena in Hindi Love Stories PDF

सरहदों का इश्क़

by Sarvesh Saxena Verified icon in Hindi Love Stories

पता है... पहले मैं तुम्हे पल पल याद करता था लेकिन अब ऐसा नहीं है क्यूंकि अब मैं तुम्हे भूलता ही नही, मेरी आँखों को एहसास ही नही होता के कब वो सोई, कब जागीं पर ...Read More