Bhraman ki Beti - 1 by Sarat Chandra Chattopadhyay in Hindi Social Stories PDF

ब्राह्मण की बेटी - 1

by Sarat Chandra Chattopadhyay Matrubharti Verified in Hindi Social Stories

मुहल्ले में घूमने-फिरने के बाद रासमणि अपनी नातिन के साथ घर लौट रही थी। गाँव की सड़क कम चौड़ी थी, उस सड़क के एक ओर बंधा पड़ा मेमना (बकरी का बच्चा) सो रहा था। उसे देखते ही बुढ़िया नातिन ...Read More