Badi baai saab - 15 by vandana A dubey in Hindi Novel Episodes PDF

बड़ी बाई साब - 15

by vandana A dubey Verified icon in Hindi Novel Episodes

शादी के बाद ससुराल में सबकुछ था, सिवाय अपनी इच्छा के. जो चाहो खाओ, पहनो, जहां चाहो जाओ, मिलो-जुलो बस अपने विचार पेश मत करो. बड़ी बाईसाब यानि गौरी की सास जो कहें उसे अन्तिम सच मानो. यदि ऐसा ...Read More