Phir Se - 5 by Ambalika Sharma in Hindi Love Stories PDF

फिर से - 5

by Ambalika Sharma in Hindi Love Stories

5 आसुओं ने डायरी के पन्नो को भिगो दिया था| रिया ने डायरी बंद की और सिसक सिसक कर रोने लगी| मन का वो बाँध जैसे टूट गया हो| पूरी रात नही सोई| खुद को कोसती रही के क्यूँ ...Read More