पंचायत वेबसिरिज की समीक्षा

by Amit Singh in Hindi Film Reviews

पतित माध्यम और विषय-वस्तु की साफ़-सुथरी तस्वीर : पंचायतएक दौर था जब ग्रामीण जीवन साहित्य और सिनेमा का केन्द्रीय विषय-वस्तु हुआ करता था | साहित्य के पन्ने और सिनेमा या टेलीविजन के पर्दे पर जब गाँव की कहानी दिखाई ...Read More