Aadha Aadmi - 24 by Rajesh Malik in Hindi Social Stories PDF

आधा आदमी - 24

by Rajesh Malik in Hindi Social Stories

आधा आदमी अध्‍याय-24 छोटी के आते ही मैं लेट्रीन के बहाने उसे मैदान में ले गया और बड़ी चालाकी से उससे बात उगलवाने लगा, ‘‘आय री, तैं कल रात में आई राहैं न?‘‘ ‘‘भागव बहिनी.‘‘ ‘‘भागव बहिनी नाय, हमका ...Read More