do baalti paani - 30 by Sarvesh Saxena in Hindi Humour stories PDF

दो बाल्टी पानी - 30

by Sarvesh Saxena Matrubharti Verified in Hindi Humour stories

सुनील के इस व्यवहार से बेताल बाबा नाराज होकर बोले “ अरे मूर्ख सुधर जा वर्ना गुजर जायेगा, हमसे विद्रोह ना कर, यही तो वो चुडैल चाहती है” | ये कहकर बाबा सुनील को अपने आश्रम मे लाने के ...Read More