Matrutva by Sangeeta Gupta in Hindi Classic Stories PDF

मातृत्व

by Sangeeta Gupta in Hindi Classic Stories

"आंती,हमाली बोल दे दो "गुलाब की क्यारी गोड़ते हुए सुरभि ने पीछे पलटकर देखा। मेहंदी की बाढ़ के टूटे हुए पैबंद से एक गोरा चिट्टा बच्चा लाल स्वेटर पहने, अपने दोनों हाथ बढ़ाए खड़ा था।" बोल यहां "?"हां वो ...Read More