Damad ji by RISHABH PANDEY in Hindi Humour stories PDF

दामाद जी

by RISHABH PANDEY Matrubharti Verified in Hindi Humour stories

एक जमाने में दामाद की पूंछ परख और स्वागत का तरीका भी अलग ही ठंग का होता था।जब कभी।दामाद जी ससुराल जा धमकते अफरातरफी का माहौल बन जाता था।यदि पूर्व सूचना पर आगमन होता तो क्या कहने।एक दो आदमी ...Read More