Jasoosi ka maza - 6 - last part by Kanupriya Gupta in Hindi Humour stories PDF

जासूसी का मज़ा भाग 6 (अंतिम)

by Kanupriya Gupta in Hindi Humour stories

रात भर करवटें बदलने और खुद से ही माथापच्ची करने बाद जब सीमा जी उठी तो उनकी आँखे गुलाब जामुन सी लाल हो रही थी और चौधरी जी का शरीर उकडू लेटे लेटे ऐसा हो गया था जैसे मालपुए ...Read More