जिंदगी से मुलाकात - भाग 7

by R.J. Artan in Hindi Short Stories

मुझे पता था कुछ तो गड़बड़ है | तुमने मुझे एक बार भी बताना लाजमी नहीं समझा |"ऐसा कुछ नहीं है.. आंटी मैं... बस ...""अब मैं 71 साल की हूं अब ऐसे झटके सहन करने की ताकत मुझ में ...Read More