Bewajah ke khayal - 1 by Merikhanii in Hindi Love Stories PDF

बेवजहा के ख़्याल - 1

by Merikhanii in Hindi Love Stories

मैंने जब तक ताजमहल नही देखा था तो मुझे लगता था की दुनिया कुछ भी कहे ताजमहल इतना भी खूबसूरत नही है, क्योंकि ताज की तस्वीर मेरे कमरे की दीवार से लगी थी और मैं यही हक़ीक़त मानता था ...Read More