Akhbaar Wala by Mayank Saxena in Hindi Love Stories PDF

अखबार वाला

by Mayank Saxena in Hindi Love Stories

"न्यूज़ पेपर, न्यूज़ पेपर" हमेशा की तरह रट लगाते हुए 'श्लोक' ने श्याम बाबू के घर पर दस्तक दी। श्लोक अखबार दरवाज़े पर रखकर जा ही रहा था कि अचानक से घर का प्रवेश द्वार खुला। आज अखबार उठाने ...Read More