Raj-Throne--Part(19) by Saroj Verma in Hindi Classic Stories PDF

राज-सिंहासन--भाग(१९)

by Saroj Verma Matrubharti Verified in Hindi Classic Stories

इस घटना के कारणवश उन सभी को आपस में वार्तालाप का समय ही नहीं मिला,ये सब एकाएक हुआ था उन्होंने सोचा ही नहीं कि इस प्रकार बसन्तसेना से उनका मेल होगा,वे सभी विवश थे एकदूसरे से कुछ भी बोलने ...Read More