Apang - 51 by Pranava Bharti in Hindi Fiction Stories PDF

अपंग - 51

by Pranava Bharti Matrubharti Verified in Hindi Fiction Stories

51 ------------ कोई किसी का इतना ख्याल कैसे रख सकता है ? भानु के मन में बार-बार ये बात आती और उसके दिल की धड़कन तेज़ हो जाती । सच तो यह था कि उसे खुद से ही डर ...Read More