Mamta ki Pariksha - 131 by राज कुमार कांदु in Hindi Fiction Stories PDF

ममता की परीक्षा - 131

by राज कुमार कांदु Matrubharti Verified in Hindi Fiction Stories

शहर की भीड़भाड़ के बीच कार मुख्य सड़क पर फर्राटे से भागी जा रही थी। शाम का धुंधलका फैल चुका था। नित्य की भाँति सूर्यदेव अपनी गति से गंतव्य की तरफ अग्रसर थे और उस जगह पहुँच गए थे ...Read More