चंद्रगुप्त - प्रथम अंक - 8

by Jayshankar Prasad in Hindi Novel Episodes

चंद्रगुप्त - प्रथम अंक - 8 (गांधार नरेश का प्रकोष्ठ) चिन्तायुक्त राजा बेटी अलका के पास जाता है - अधिक वेग से आम्भिक प्रवेश करता है - राजकुमारी बंदिनी बने उसके बजाय कोई और यवन का चुनाव करने के लिए आम्भिक ...Read More