Best Horror Stories stories in hindi read and download free PDF

कर्ण पिशाचिनी - 7
by Rahul Haldhar

                    भाग - 2" भाई और कितनी देर तक सोएगा । इससे पहले मैंने किसी को भी ऐसा नहीं देखा ...

तांत्रिक मसाननाथ - 9
by Rahul Haldhar
  • (11)
  • 582

       तांत्रिक मसाननाथ व कापालिक ( 9 )दोपहर को यशपाल स्वयं ही गांव में जाकर लालू नाम मल्लाह को लेकर आए । नदी में करना क्या है ...

कर्ण पिशाचिनी - 6
by Rahul Haldhar
  • (16)
  • 954

        - : कर्ण पिशाचिनी की एक दूसरी स्टोरी :-                      भाग - 1कुछ दिन पहले ही पूर्णिमा खत्म ...

एक अज्ञात शापित स्थल - 3
by Kirtipalsinh Gohil
  • (12)
  • 837

चारों ओर अँधेरा, घना जंगल, जानवरों की आवाजें, मच्छर और डरावनी लहरों से एमा, इसाबेला, जेम्स और लुकास डरते हुए ओलिवर के पीछे पीछे बिना कुछ बोले चल रहे ...

तांत्रिक मसाननाथ - 8
by Rahul Haldhar
  • (13)
  • 909

         तांत्रिक मसाननाथ व कापालिक ( 8 )रात 1 बजे थाने के सामने जीप आकर रुकी । सबसे पहले यशपाल फिर मसाननाथ उसके बाद नरेंद्र गाड़ी ...

कर्ण पिशाचिनी - 5
by Rahul Haldhar
  • (18)
  • 1.1k

                         भाग - अंतिमदेखते ही देखते शनिवार आ गया । उधर शुक्रवार से ही गोपालेश्वर अपने काम में ...

एक अज्ञात शापित स्थल - 2
by Kirtipalsinh Gohil
  • (11)
  • 1.4k

अगली सुबह तय किये हुए वक्त पर सभी मित्र रेलवे स्टेशन पर मिलते है। ओलिवर सबसे पहले आ चूका है और उसने सभी की टिकिट ले रखी है। सभी ...

तांत्रिक मसाननाथ - 7
by Rahul Haldhar
  • (12)
  • 999

          तांत्रिक मसाननाथ व कापालिक ( 7 )अगले दिन सुबह के 10 बजे इस बारे में बातचीत शुरू हुई । चाय के कप को हाथ ...

कर्ण पिशाचिनी - 4
by Rahul Haldhar
  • (18)
  • 1.3k

                        भाग - 4 अगले दिन शाम को यज्ञ - हवन शुरु हुआ । दीपिका एक कमरे के अंदर ...

तांत्रिक मसाननाथ - 6
by Rahul Haldhar
  • (12)
  • 1k

        तांत्रिक मसाननाथ व कापालिक ( 6 ) 20 साल पहले की इस घटना को सोचते हुए नरेंद्र कहीं खो गया था । उसे होश आया मसाननाथ ...

कर्ण पिशाचिनी - 3
by Rahul Haldhar
  • (15)
  • 1.2k

                          भाग - 3गोपालेश्वर की बात बाद में करते हैं । पहले एक और कहानी को पढ़ ...

एक अज्ञात शापित स्थल - 1
by Kirtipalsinh Gohil
  • 1.9k

"वो कब आएगा? बहुत देर हो गई।" "आ जाएगा। ट्रैन पहुँचने ही वाली है।" "पर मानना पड़ेगा, उसने आखिर ढूंढ ही लिया।" "हाँ। ये तो सच कहा।" "अब जल्दी ...

तांत्रिक मसाननाथ - 5
by Rahul Haldhar
  • (11)
  • 1.1k

            तांत्रिक मसाननाथ व कापालिक ( 5 )उस समय रात के 2 बज रहे थे । नरेंद्र को बैठे - बैठे नींद लग रही है ...

कर्ण पिशाचिनी - 2
by Rahul Haldhar
  • (13)
  • 1.4k

                           भाग - 2विजयकांत को जब होश आया तब उसने देखा कि वो एक घर के आँगन ...

दो प्यारी सी आत्माएँ - 2
by Mehul Pasaya
  • 978

हा ये चाँदनी है इस्का नाम चाँदनी है और इस बेचारी का इक ही सपना था और वो है प्यार पर ऊपरवाले को ये तक नही देखा गया और ...

तांत्रिक मसाननाथ - 4
by Rahul Haldhar
  • (11)
  • 1.3k

           तांत्रिक मसाननाथ व कापालिक ( 4 )विनय के मौत का खबर हवा से भी तेज फैल रहा था । इसीलिए दोपहर का यह मीटिंग ...

कर्ण पिशाचिनी - 1
by Rahul Haldhar
  • (14)
  • 2.3k

क्योंकि मेरी तरह आप भी हिंदी भाषी राज्य में रहते हो तो कहानी में जिस जगह का उल्लेख किया गया है वह आपको पता नही होगा । जगह का ...

माँ का उन्माद
by Deepak sharma
  • 714

मानस दर्शन की एक व्याख्या के अनुसार बाल स्मृतियाँ हमारे अवचेतन के भंडार में संचित रहती हैं और यदा-कदा हमारे सपनों में आन प्रकट होती हैं, उनके केंद्र में ...

तांत्रिक मसाननाथ - 3
by Rahul Haldhar
  • 1.3k

            तांत्रिक मसाननाथ व कापालिक ( 3 )उस दिन रात आठ बजे से पहले ही यशपाल व नरेंद्र ने खाना समाप्त किया । खाना बनाने ...

रॉयल फ्लैट रहस्य - 6 - अंतिम
by Rahul Haldhar
  • (16)
  • 1.1k

उनके प्रश्न के उत्तर को ना देकर गौरव ने अपने पॉकेट से एक छोटे डायरी को निकाला । फिर एक के बाद एक पन्ने को पलट बीच के एक ...

नौ तेरह बाईस
by Deepak sharma
  • 861

“मैं निझावन बोल रहा हूं, सर” मेरे मोबाइल के दूसरी तरफ मेरे बॉस हैं, मेरे जिले के एस.पी। अपनी आई.पी.एस के अंतर्गत। जबकि मेरी प्रदेशीय पुलिस सेवा में मेरी ...

तांत्रिक मसाननाथ - 2
by Rahul Haldhar
  • 1.3k

            तांत्रिक मसाननाथ व कापालिक ( 2 )आज सुबह से ही आसमान काला है । कल रात को बारिश भी हुई थी । थाने का ...

रॉयल फ्लैट रहस्य - 5
by Rahul Haldhar
  • 1.2k

ऑफिस लौटते समय राघव ने एक अद्भुत प्रश्न किया – " वैसे गौरव भैया एक महिला जो कुछ ही देर में मरने वाली है वह उस दर्दनाक समय में ...

दो प्यारी सी आत्माएँ - 1
by Mehul Pasaya
  • 1.3k

बात है एक मर्डर की... बात है एक आत्मा की... बात है ज़िन्दा रह कर प्यार नसीब नही हुआ और मर के फिर क्या था... जान्ने के लिये पढते ...

तांत्रिक मसाननाथ - 1
by Rahul Haldhar
  • 2.4k

              तांत्रिक मसाननाथ व कापालिक ( 1 )आसनसोल स्टेशन से लगभग 15 मील दूर उत्तर पूर्वी कोने पर हैं शिवपुर गांव I गांव न ...

रॉयल फ्लैट रहस्य - 4
by Rahul Haldhar
  • (11)
  • 1.4k

आधे घंटे बाद ही रमाकांत के घर सामने गाड़ी को राघव ने रोका । घड़ी में उस समय शाम के छह बजे हैं । शाम के बाजार धीरे - ...

रॉयल फ्लैट रहस्य - 3
by Rahul Haldhar
  • (12)
  • 1.6k

अब आगे …….. विजय के घर से निकल कर देवेंद्र जी रास्ते पर ही बैठ गए । उसके बाद पॉकेट से मोबाइल को निकाल कुछ नम्बर को डायल किया ...

भूतिया जंगल - अंतिम
by Rahul Haldhar
  • (12)
  • 2.1k

अब आगे... आशीष को सांस लेने में बहुत ज्यादा कठिनाई हो रहा है  ऐसा ही उस दिन भी हुआ था I उस दिन की तरह आज भी उसे लग ...

रॉयल फ्लैट रहस्य - 2
by Rahul Haldhar
  • (12)
  • 1.6k

यहाँ पर एक विशेष पुराना व प्रसिद्ध मंदिर है वह मैं जानता था  इसीलिए उसे देखने के लिए भी एक प्लान बनाया था । दोपहर होने वाला था इसलिए ...

डरना पडेगा
by Mehul Pasaya
  • 2.2k

डरना पडेगा " नही नही ये था क्यानमश्कार दोस्तो तो हम लेके आये हे एक नई कहानी पर इस कहानी मे डरावना रहश्य होगा बहुत सारे ऐसे मोमेंट होंगे ...