अब तक मेरी 2 नवलकथाए पुस्तक के तौर पर प्रकाशित हो चुकी है. पहली नवलकथा "Success-Money or Dream?" English भाषा में एवं दूसरी नवलकथा "Rewind ज़िंदगी" हिंदी भाषा में प्रकाशित हुई है. जो amazon, Google Play Books, flipkart पर e-book और paperback फॉर्मेट में उपलब्ध है. मेरी कुछ कविताए "दिव्य भास्कर" अखबार में प्रकाशित हो चुकी है. मेरी तीसरी नवलकथा जल्द ही आप लोगो के समक्ष प्रस्तुत करूँगा जो एक गुजराती में लिखी हुई आत्मकथा है.

    • (37)
    • 586
    • (22)
    • 398
    • (32)
    • 706
    • (24)
    • 450
    • (41)
    • 1k
    • (36)
    • 969
    • (43)
    • 1.5k
    • (27)
    • 630
    • (38)
    • 810