Contractor - 4 by Arpan Kumar in Hindi Short Stories PDF

कांट्रैक्टर - 4

by Arpan Kumar Verified icon in Hindi Short Stories

राकेश हल्का सा मुस्कुराता हुआ चुप ही रहा। वह कुछ संकोच में भी आ रहा था। चरणजीत ने बिकास की बात को पूरी शिद्दत से आगे बढ़ाते हुए और पहले राकेश एवं बाद में बिकास चटर्जी की ओर देखते ...Read More