Wo Raat by Deepti Khanna in Hindi Horror Stories PDF

वो रात

by Deepti Khanna in Hindi Horror Stories

ए -वक्त तू क्यों रुका नहीं उस वक्त जो मेरे दिल के थे करीब आए थे लेने मुझे अपने साथ उस वक्त ll ख्वाब या हकीकत ,जब भी सोचती हूं उस मंजर को तो मेरी रूह कांप उठती हूं ...Read More