Prem moksh - 9 by Sohail K Saifi in Hindi Horror Stories PDF

प्रेम मोक्ष - 9

by Sohail K Saifi Matrubharti Verified in Hindi Horror Stories

सर्दियों का खिला हुआ समां था, जोरदार ठण्ड मे अमृत समान धुप अपने चरम ताप पर थी। खेती मे किसान जी तोड़ मेहनत कर रहे थे। उनकी औरते भी गीत गुनगुना कर अपने पतियों का उत्साह बढ़ाते हुए उनका ...Read More