Dada by Shilpa Sharma in Hindi Short Stories PDF

दादा

by Shilpa Sharma in Hindi Short Stories

‘‘न जाने क्यों इतना दिल पसीज जाता है तुम्हारा? ऐसे ही चलता रहा तो मदद मांगनेवालों की लाइन लग जाएगी हमारे यहां. हर किसी की समस्या सुलझाने बैठ जाते हो,’’ झल्लाते हुए किरण ने कहा.हमेशा की तरह डॉक्टर तिवारी ...Read More