Switch off by विनीता परमार in Hindi Social Stories PDF

स्वीच ऑफ

by विनीता परमार in Hindi Social Stories

कैंटीन से ठहाकों की गूँज सुनाई दे रही है । वैसे आमतौर पर यहाँ गहरी उदासी ही पसरी रहती है । यहाँ बिकनेवाली सारी चीजों को पता है कि बिकना है क्योंकि ये बेशर्म पेट मानता ही नहीं । ...Read More