ek ladki by Archana Yaduvanshi in Hindi Poems PDF

एक लड़की

by Archana Yaduvanshi in Hindi Poems

लगता था मुझ सा कोई दुखी नहींआज देखा जो अंदर उसके झाँककरतो उस सा दुखी कोई है ही नहीं...कोई मिला उसे भी उस घड़ीदुनिया थी एक तरफ और वो थी अकेलीमोड़ था कुछ अजीब तबऔर ज़िन्दगी बनी थी पहेली।उस ...Read More