Iti marg ki sadhna paddhati - 10 by श्री यशपाल जी महाराज (परम पूज्य भाई साहब जी) in Hindi Spiritual Stories PDF

10. आनन्द योग - ध्यान-योगाभ्यास से लाभः

by श्री यशपाल जी महाराज (परम पूज्य भाई साहब जी) in Hindi Spiritual Stories

जब हम अपने जीवन व चेतना को अन्तर्मुखी करके अपने अन्दर की ओर चलना प्रारम्भ कर देते हैं तो स्थूल शरीर, सूक्ष्म शरीर और कारण शरीर के आवरणों को भेद कर आत्म - साक्षात्कार की मंजिल तक पहुंच जाते ...Read More