vo 72 ghante by Rajesh Maheshwari in Hindi Motivational Stories PDF

वे बहत्तर घण्टे

by Rajesh Maheshwari in Hindi Motivational Stories

वे बहत्तर घण्टे गुजरात भीषण अकाल से पीड़ित था। रहे थे। फसलें सूख चुकी थीं। खेत दरक गये थे। इन्सानों के लिये अनाज की व्यवस्थाएं तो सरकार कर रही थी। सरकार के पास अनाज के भण्डार थे लेकिन ...Read More