Tiraskrit by Neerja Pandey in Hindi Short Stories PDF

तिरस्कृत

by Neerja Pandey in Hindi Short Stories

जल्दी जल्दी हाथ चलाते हुए सुमित्रा गरमा गरम परांठे बनाकर सब को दे रही थी। सुबह का नाश्ता सब साथ ही करते थे । फटाफट परांठे सेंक कर सुमित्रा दोनों बेटे बहू और पति को दे रही ...Read More