hadatal bhi jaruri hai by padma sharma in Hindi Women Focused PDF

हड़ताल भी जरूरी थी

by padma sharma in Hindi Women Focused

हड़ताल भी जरूरी थी सुबह अपने पैर पसारती जा रही थी। गैंदा बाई तेज कदमों से कॉलोनी की तरफ जा रही थी। समय का तो उसे ज्ञान नहीं था लेकिन सूरज के बढ़ते रूप और फैलती धूप को देखकर ...Read More