आमदनी अठन्नी खर्चा रुपैया

by Saroj Prajapati Matrubharti Verified in Hindi Motivational Stories

नीलम जैसे ही काम करके बैठी, तभी दरवाजे की घंटी बज गई। उसके बेटे ने दरवाजा खोला तो सामने उसके चाचा चाची थे। उसने नमस्ते कर, उन्हें अंदर बुलाया। उन्हें देखकर नीलम व उसके पति एक साथ बोले "अरे ...Read More