vachan - 9 by Saroj Verma in Hindi Classic Stories PDF

वचन--भाग (९)

by Saroj Verma Matrubharti Verified in Hindi Classic Stories

वचन--भाग(९) दरवाज़े की घंटी बजते ही समशाद ने दरवाज़ा खोला तो सामने दिवाकर खड़ा था,दिवाकर भीतर आ गया, उसने समशाद से पूछा कि आफ़रीन कहाँ है? समशाद बोली कि शिशिर साहब आएं है और वो उन्हीं के साथ हैं, ...Read More