Autobiography of shoes by Alok Mishra in Hindi Humour stories PDF

जूते की आत्मकथा 

by Alok Mishra Matrubharti Verified in Hindi Humour stories

जूते की आत्मकथा मैं एक जूता हुँ , अरे साहब वही जूता जो आप सर्दी,गर्मी और बरसात में बिना मुर्रवत के रगड़ते रहते है , अरे वही जूता जो सम्मान का प्रतीक बन कर आप के चरणों ...Read More